गोरखपुर : सीएम ने मेडिकल ट्रीटमेंट वैन को झंडी दिखा कर किया रवाना

गोपाल त्रिपाठी
गोरखपुर। मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने शनिवार को गोरखनाथ मंदिर के प्रांगण से टाटा ट्रस्ट के सौजन्य से संचालित होने वाली दो मोबाइल मेडिकल ट्रीटमेंट वैन को हरी झंडी दिखा कर रवाना किया। इसके साथ ही गोरक्षनाथ चिकित्सालय में निःशुल्क नेत्र शिविर का भी उद्घाटन किया। उन्होंने शौर्य दिवस पर देश के जवानों को शुभकामना देते हुए सर्जिकल स्ट्राइक के लिए बधाई दी।
मुख्यमंत्री ने कहाकि मोबाइल मेडिकल ट्रीटमेंट के जरिए मरीजों के घर पहुंचकर उनका इलाज किया जाएगा। पूर्वांचल में फैली इंसेफेलाइटिस और विषाणुजनति बीमारियों से निपटने के लिए यह मोबाइल मेडिकल ट्रीटमेंट वैन काफी कारगर साबित होगी। प्रदेश के दो जनपद सिद्धार्थनगर और गोरखपुर में यह सेवा शुरू की गई है। जिसमें मरीजों के इलाज के लिए  अनुभवी डाक्टर और स्टाफ के सहयोग से उनका इलाज किया जाएगा। उन्हें दवा भी दी जाएगी और जांच की जाएगी। मुख्य चिकित्सा अधिकारी एसएन तिवारी ने बताया कि इंसेफेलाइटिस बीमारी से निपटने के लिए एलटी स्टाफ, फार्मासिस्ट नर्स द्वारा मरीजों की जांचकर दवा दी जाएगी।
सिद्धार्थनगर जनपद के उस्का बाजार और गोरखपुर के पिपराइच क्षेत्र में यह बैन डोर टू डोर जाकर मरीजों का इलाज इलाज करेगी। रोस्टर के जरिए 15- 15 दिन अलग-अलग स्थानों पर रहेगी। जिसमें 150 तरह की जांच अत्याधुनिक मशीन द्वारा की जाएगी। गंभीर मरीजों को इलाज भी किया जाएगा और आवश्यकता पड़ने पर इन्हें मेडिकल कॉलेज रेफर किया जाएगा। यह योजना पायलट प्रोजेक्ट के जरिए चालू की जा रही है। इसके सफल होने पर जेई और एईएस से प्रभावित 38  जिलों में चालू किया जाएगा।  यह मोबाइल ट्रीटमेंट वैन 3 वर्षों के लिए दी गई।
Back to top button
E-Paper