लॉकडाउन में वारदात : प्रयागराज में दबंदो ने एक ही परिवार के 4 लोगों को गला रेतकर उतारा मौत के घाट

प्रयागराज । धूमनगंज थाना क्षेत्र में प्रीतमनगर मोहल्ले के विवेकानन्द चौराहे के समीप गुरूवार दोपहर एक कारोबारी समेत चार लोगों की घर के अन्दर धारदार हथियार से गला रेतकर हत्या कर दी गई। पति-पत्नी एवं बहू एवं बेटी को अपराधियों ने मौत के घाट उतारने के बाद फरार हो गए। सूचना पर आलाधिकारी मौके पर पहुंचकर जांच शुरू कर दी है।

धूमनगंज के प्रीतमनगर निवासी तुलसीदास केशरवानी (62) पुत्र स्वर्गीय गया प्रसाद केशरवानी इलेक्ट्रानिक दुकान के सहारे परिवार का भरण-पोषण करता था। बताया जा रहा है कि घर के भूतल में दुकान है और पहले मंजिल पर वह अपने परिवार के साथ रहता था। गुरूवार दोपहर तुलसीदास केशरवानी और उसकी पत्नी किरन केशरवानी (60) और बहू प्रिंयका केशरवानी (32) पत्नी आशीष केशरवानी और बेटी निहारिका उर्फ गुड़िया केशरवानी (27) की अज्ञात अपराधियों ने धारदार हथियार से गला रेतकर निर्मम हत्या कर दी और फरार हो गये।

वारदात की जानकारी जब तुलसीदास का बेटा आशीष केशरवानी एक बजे के बाद घर पहुंचा तो परिवार के सभी सदस्य खून से लथपथ कमरों में पड़े हुए थे। यह देखते ही वह चीखते हुए बाहर निकला। उसकी चीख सुनकर आस-पास के लोग पहुंचे और घर के अन्दर का नजारा देखते ही तत्काल पुलिस को सूचना दी। धूमनगंज थाना प्रभारी पुलिस बल के साथ मौके पर पहुंचे और अधिकारियों को बताया कि एक ही परिवार के चार सदस्यो की हत्या कर दी गई है। एक ही परिवार के चार सदस्यों की हत्या की खबर मिलते ही नगर पुलिस अधीक्षक बृजेश श्रीवास्तव कई थानों के साथ मौके पर पहुंचे। घटनास्थल से वैज्ञानिक साक्ष्य जुटाने के लिए तत्काल फोरेंसिक टीम और खोजी कुत्ता को मौके पर बुलाया। अपर पुलिस अधीक्षक अपराध समेत आलाधिकारी मौके पर पहुंचे।

अपर पुलिस अधीक्षक बृजेश श्रीवास्तव ने बताया चार लोगों की हत्या हुई है। जिसमें दुकानदार व उसकी पत्नी एवं बहू और बेटी शामिल है। बेटा घर के बाहर आर्डर के सम्बन्ध में गया हुआ था। वापस लौटने के बाद यह जानकारी हुई है, जांच जारी है।

Back to top button
E-Paper