खालिस्तानी आतंकियों को हथियार सप्लाई करने वाला जावेद पकड़ा गया, यूपी एटीएस ने हापुड़ से दबोचा

हापुड़, । उप्र की एटीएस की टीम ने रविवार को हापुड़ से एक व्यक्ति को गिरफ्तार किया है। पकड़े गए व्यक्ति पर खालिस्तान लिबरेशन फोर्स के आंतकवादियों को हथियारों की आपूर्ति करने का आरोप है। पकड़ा गय आरोपी जनपद मेरठ का निवासी है। बदमाश पर विभिन्न जनपदों के थानों में कई अपराधिक मुकदमें दर्ज हैं। पकड़ा गया बदमाश पिछले काफी समय से पंजाब समेत कई जनपदों की पुलिस एवं एटीएस के लिए सिरदर्द बना हुआ था।


पुलिस अधीक्षक संजीव सुमन ने बताया कि एटीएस की टीम रविवार सुबह हाुपड़ पहुंची। टीम ने उनसे एक बदमाश को गिरफ्तार करने में मदद मांगी। इसके बाद एटीएस और पुलिस ने संयुक्त रूप से थाना देहात क्षेत्र के गढ़ रोड स्थित एक मार्बल की दुकान से जनपद मेरठ के थाना किठौर क्षेत्र के गांव राधना निवासी जावेद को गिरफ्तार कर लिया है। पकड़े गए बदमाश पर खालिस्तान लिबरेशन फोर्स के आतंकवादियों को अवैध रूप से हथियारों की आपूर्ति करने का आरोप है। वह हथियारों के बदले में आतंकवादियों से मोटी रकम वसूल करता था। एटीएस की टीम काफी समय से उसके पीछे लगी थी। हथियारों की तस्करी के मामले में जावेद के खिलाफ पंजाब के थाना स्टेट स्पेशल ऑपरेशन सेल एसओएस मोहाली नगर में मुकदमे दर्ज हैं। पंजाब पुलिस के साथ कई जनपदों की पुलिस जावेद की तलाश में लगी थी।


कुछ माह पहले एटीएस ने जावेद के साथी जनपद मेरठ के थाना जानी क्षेत्र के गांव टिकारी निवासी आशीष को गिरफ्जार किया था। दोनों मिलकर खालिस्तानी आतंकियों को अवैध हथियारों की सप्लाई करते थे। आशीष ने पूछताछ के दौरान एटीएस को जावेद के बारे में सारी जानकारियां दी थीं। रविवार को एटीएस टीम ने जावेद की तलाश में उसके गांव राधना में छापा मारा था लेकिन जावेद बचकर निकल गया। उसका पीछा करती हुई हापुड़ तक पहुंची और उसे दबोच लिया है।

पत्नी व बच्ची के साथ हापुड़ पहुंचा था जावेद
रविवार दोपहर करीब 11 बजे गढ़ रोड स्थित मार्बल के गोदाम पर जावेद कार में सवार होकर पत्नी, बच्ची और ड्राइवर के साथ आया था। इस दौरान उसका पीछा करते हुए एटीएस भी वहां पहुंच गई। भनक लगने पर जावेद ने अपनी पत्नी और बच्ची को गोदाम से बाहर निकलकर कार में जाकर बैठने को कहा। इसके बाद वह गोदाम की ऊपरी मंजिल पर मार्बल देखने का बहाना बनाकर छिप गया। करीब आधा घंटे के प्रयासों के बाद स्थानीय पुलिस की मदद से मार्बल के गत्तों के बीच छिपे जावेद को गिरफ्तार किया गया। उसके ड्राइवर अनवार को भी हिरासत में लिया गया। उसकी पत्नी बच्ची के साथ फरार हो गई।

Back to top button
E-Paper