VIDEO : करुणानिधि के अंतिम दर्शन में मची भगदड़, 2 लोगों की मौत, 40 घायल

दक्षिण की राजनीति के स्तंभ कहे जाने वाले DMK प्रमुख करुणानिधि अब इस दुनिया में नहीं रहे. मंगलवार शाम को करुणानिधि ने 94 साल की उम्र में अंतिम सांस ली. उनके निधन के साथ ही पूरे तमिलनाडु में शोक की लहर है, डीएमके समर्थक विलाप में बेकाबू हो रहे हैं. करुणानिधि के पार्थिव शरीर को अभी चेन्नई के राजाजी हॉल में अंतिम दर्शन के लिए रखा गया है. शाम 5 बजे उनका अंतिम संस्कार होगा.

पढ़ें बड़े अपडेट्स…

राजाजी हॉल में अंतिम दर्शन के दौरान भगदड़ मच गई है. बताया जा रहा है कि भगदड़ में 40 लोग घायल हुए हैं. भगदड़ में दो लोगों की मौत हो गई है. सभी को अस्पताल ले जाया गया है. भगदड़ के बात करुणानिधि के शव को हॉल के अंदर ले जाया गया है.

राजाजी हॉल के बाहर जमा भीड़ को संबोधित करते हुए एम.के. स्टालिन ने कहा कि वह चाहते हैं कि किसी भी तरह की हिंसा ना हो. उन्होंने कहा कि सरकार ने जिस तरह मरीना बीच पर जमीन देने से मना किया है, वह माहौल को बिगाड़ना चाहती है. कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी, सपा प्रमुख अखिलेश यादव, RJD नेता तेजस्वी यादव ने चेन्नई के राजाजी हॉल पहुंच करुणानिधि को श्रद्धांजलि दी.

 करुणानिधि के पार्थिव शरीर को चेन्नई के राजाजी हॉल में रखा गया है. शाम 5 बजे उनकी अंतिम यात्रा शुरू होगी. चेन्नई के मशहूर मरीना बीच पर उनके अंतिम संस्कार की तैयारियां शुरू हो गई है. DMK समर्थक बड़ी संख्या में मरीना बीच की ओर पहुंच रहे हैं.  प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने भी चेन्नई पहुंच करुणानिधि के अंतिम दर्शन किए. उन्होंने वहां पहुंच कर करुणानिधि के बेटे स्टालिन और बेटी कनिमोझी से मुलाकात की. उनके अलावा भी कई नेता आज चेन्नई पहुंचे.

करुणानिधि के निधन के बाद उनको दफनाने को लेकर भी विवाद हुआ. करुणानिधि की पार्टी और उनके समर्थकों ने मांग की है कि उन्हें चेन्नई के मशहूर मरीना बीच पर दफनाया जाए और उनका समाधि स्थल भी बने. लेकिन तमिलनाडु सरकार ने ऐसा करने से इनकार किया है. इसी को लेकर आज सुबह मद्रास हाईकोर्ट में सुनवाई हुई. मद्रास उच्च न्यायालय ने बुधवार को दिवंगत द्रविड़ मुनेत्र कड़गम (द्रमुक) नेता व तमिलनाडु के पूर्व मुख्यमंत्री एम. करुणानिधि पार्थिव शरीर को मरीना बीच पर दफनाए जाने की अनुमति दे दी.

बुधवार सुबह ही करुणानिधि के दर्शन के लिए दक्षिण की राजनीति और सिनेमा के बड़े सितारे पहुंच रहे हैं. सुपरस्टार रजनीकांत, कमल हासन ने भी करुणानिधि को श्रद्धांजलि दी.

 इस दौरान अंतिम दर्शन के लिए चेन्नई पहुंचे समर्थक बेकाबू भी हो गए, जिसके बाद पुलिस को लाठीचार्ज करना पड़ा. इस बीच विवाद को देखते हुए मरीना बीच पर रैपिड एक्शन फोर्स को तैनात किया गया है.

पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी मंगलवार शाम को करुणानिधि के निधन की खबर मिलते ही तुरंत चेन्नई पहुंची. उन्होंने उनके निवास गोपालपुरम में जाकर अंतिम दर्शन किए.

करुणानिधि के पार्थिव शरीर को मरीना बीच पर दफनाने के लिए तैयारियां शुरू हो गई हैं. करुणानिधि को जिस ताबूत में रखा जाएगा, उस पर लिखा है

‘जिस व्यक्ति ने जीवन में कभी आराम नहीं किया, अब वह आराम कर रहा है’  

Back to top button
E-Paper