लखीमपुर खीरी : कृषि मंत्री ने ली कानून व्यवस्था व विकास कार्यों की समीक्षा बैठक, दिए निर्देश

लखीमपुर खीरी। कलेक्ट्रेट सभागार में लखनऊ मंडल के प्रभारी मंत्री, यूपी के कृषि मंत्री सूर्य प्रताप शाही की अध्यक्षता में कानून व्यवस्था एवं विकास कार्यों की समीक्षा बैठक ली। बैठक का सफल संचालन सीडीओ अनिल कुमार सिंह ने किया।

बैठक में मुख्य रूप से एमएलसी अनूप गुप्ता, विधायक योगेश वर्मा, सौरभ सिंह सोनू, लोकेंद्र प्रताप सिंह, विनोद शंकर अवस्थी, मंजू त्यागी, शशांक वर्मा, भाजपा जिलाध्यक्ष सुनील सिंह, भाजपा जिला प्रभारी शंकर लाल लोधी, डीएम महेंद्र बहादुर सिंह, एसपी संजीव सुमन, सीडीओ अनिल कुमार सिंह, अपर कृषि निदेशक (बीज एवं प्रक्षेत्र) सुरेंद्र बहादुर सिंह, संयुक्त निदेशक, कृषि (लखनऊ मंडल) डीपी सिंह, सीएमओ डॉ. शैलेंद्र भटनागर, सांसद प्रतिनिधि अरविंद संजय सहित सभी जिला स्तरीय अधिकारी मौजूद रहे।

बैठक की शुरुआत में अफसरों ने मंत्री समूह का स्वागत किया।मंत्री समूह ने अधिकारियों का परिचय प्राप्त किया। बैठक की अध्यक्षता करते हुए कबीना मंत्री सूर्य प्रताप शाही ने कहा कि विकास योजनाओं का शत प्रतिशत लाभ जनता तक पहुंचे इसके लिए कृत संकल्पित होकर काम करें। उन्होंने कहा कि डीएम व सीडीओ के नेतृत्व में जिले में अच्छा काम हो रहा, उसे और बेहतर करने के लिए प्रयास करें। समयबध्यता के साथ योजनाओं के क्रियान्वयन को पूरा किया जाए। अफसर कार्यस्थल पर निवास करें। अफसर फील्ड में निकलकर सरकार की मंशा को साकार करने में जुट जाएं। जनता की सेवा एवं उनकी समस्याओं का निदान करना हमारा धर्म है। सभी मिलकर टीम भावना से काम करें निश्चित ही अच्छे परिणाम आएंगे। विकास कार्यक्रम, योजनाओं के संबंध में जनप्रतिनिधियों को समय-समय पर अवगत कराते रहें। प्रभारी मंत्री ने जिले में किए जा रहे नवा चारों की प्रशंसा की एवं इसे आगे भी जारी रखने के निर्देश दिए।

पांच वर्षों के भीतर जमुनाबाद फार्म में उत्तरोत्तर बढ़ा उत्पादन, कृषि मंत्री ने की डीडी एवं डीएओ की प्रशंसा

डीएओ अरविंद चौधरी से जिले में खाद-बीज की उपलब्धता जानी। कृषि अधिकारी ने बताया जिले में खाद-बीज की कोई कमी नहीं है। डीसीओ बीके पटेल ने बताया कि जिले की 12 गन्ना समितियों द्वारा ड्रोन का प्रस्ताव किया है। वही उन्होंने नैनो यूरिया के लिए किए जाने वाले प्रयासों का उल्लेख किया। मंत्री ने निर्देश दिए कि ब्लाकों में इफको के जरिए नैनो यूरिया का प्रदर्शन कराए। किसानों को नैनो यूरिया के फायदे बताकर प्रमोट करे। जमुनाबाद फार्म में पांच वर्षों के भीतर उत्तरोत्तर उत्पादन बढ़ाने में उल्लेखनीय योगदान पर डीएओ अरविंद चौधरी व डीडी डॉ वाईपी सिंह की प्रशंसा की, इसे बरकरार रखने के निर्देश दिए। कृषि वैज्ञानिक से कृषि विज्ञान केंद्र जमुनाबाद में ट्रेनिंग के लक्ष्य के सापेक्ष अब तक ट्रेनिंग की प्रगति, शामिल किसानों की संख्या जानी। ट्रेनिंग के विषय पर भी पूछताछ की। वही निर्माणाधीन फार्मर हॉस्पिटल की प्रगति जानी। उन्होंने वर्मी कंपोस्ट, पीटो की संख्या, मुर्गी पालन, नेचुरल फार्मिंग, जीवामृत, घनजीवामृत सहित विभिन्न विषयों पर गहन समीक्षा की, जरूरी निर्देश दिए। डीडी कृषि ने बताया कि सोलर पंप योजना के तहत अब तक 792 स्थापित हैं, जो सभी क्रियाशील है।

बैठक में एक्सईएन बाढ़ खंड राजीव कुमार से बाढ़ विरोधी परियोजनाओं की प्रोग्रेश जानी, निर्देश दिए कि अवशेष कामों को मानसून से पहले सुरक्षित स्तर तक पूर्ण कर लिया जाए। वही परियोजनाओं के कार्यों का जनप्रतिनिधियों भी अनुसरण एवं पर्यवेक्षण कर ले। एक्सईएन नलकूप शैलेंद्र यादव से जिले में स्थापित नलकूपों की क्रियाशीलता जानी, निर्देश दिए कि नलकूप में आई खराबी को वर्कशॉप में बैठकर दुरुस्त कराएं। ताकि किसानों को सिंचाई में कोई असुविधा ना हो। उन्होंने निर्देश दिए कि रविवार को प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्रों पर आयोजित मुख्यमंत्री जन आरोग्य स्वास्थ्य मेलों में दिव्यांगों के लिए भी अलग से काउंटर बनाया जाए, जहां उनका परीक्षण हो एवं उनकी जरूरत के अनुसार उन्हें उपकरणों के लिए सूचीबद्ध किया जाए।

सीडीओ अनिल कुमार सिंह ने विकास कार्यक्रमों का पावर पॉइंट प्रेजेंटेशन के जरिए अभिनव प्रयासो को रेखांकित किया

सीडीओ ने बताया मिशन अमृत सरोवर के तहत 75 तालाबों के सापेक्ष 116 तालाबों का चयन हुआ, जिनमें 48 पर काम भी शुरू कर दिया। उन्होंने टीएचआर प्लांट, मनरेगा से मल्टीपरपज पार्क व हाट बाजार का निर्माण, थारू जनजाति में छह प्रसव उपकेंद्रों का संचालन, सहित विभिन्न नवाचारो एवं योजनाओं का जिक्र किया। संपूर्ण सुपोषण अभियान से कुपोषण मुक्ति के संकल्प, टीबी उन्मूलन के लिए अफसरों द्वारा बच्चों को गोद लेने के अभिनव प्रयास की भी जानकारी दी।

एसपी संजीव सुमन ने कानून व्यवस्था की जरूरी जानकारी दी। उन्होंने मिशन शक्ति फेज-4 के तहत जागरूकता व निरोधात्मक कार्यवाही की जानकारी दी। वही गैंगस्टर पर हुई कार्यवाही की विस्तृत जानकारी दी। बैठक के अंत में डीएम महेंद्र बहादुर सिंह ने कहा कि आज की बैठक में प्रभारी मंत्री जी ने जो दिशा निर्देश एवं मार्गदर्शन किया उनका पूर्णतया अनुपालन सुनिश्चित कराया जाएगा।

प्रभारी मंत्री ने इन योजनाओं पर की गहन समीक्षा

प्रभारी मंत्री सूर्य प्रताप शाही ने जल जीवन मिशन के तहत हर घर नल योजना, निराश्रित गोवंश एवं आश्रय स्थल, गेहूं क्रय केंद्र, कृषि विज्ञान केंद्र, विद्युत आपूर्ति, जिला व तहसील मुख्यालयों को 04 लेन व टू लेन सड़कों से जोड़ने की योजना, ओडीओपी, विश्वकर्मा श्रम सम्मान, सीएम स्वरोजगार योजना, निशुल्क राशन वितरण कार्यक्रम, सीएम सामूहिक विवाह योजना, सीएम कन्या सुमंगला योजना, घरोनी वितरण, समस्त प्रकार की छात्रवृत्ति वितरण, सीएम आवास, पीएम योजना, सामाजिक सुरक्षा पेंशन योजना, ऋण एवं रोजगार मेलों की प्रोग्रेस, श्रमिकों के बीमा, मनरेगा, आयुष्मान कार्ड, दवाओं की उपलब्धता, कोविड टीकाकरण अभियान की प्रगति, प्रधानमंत्री ग्राम सड़क योजना, ग्राम सचिवालय का निर्माण, पीएम स्वनिधि योजना, वृक्षारोपण अभियानज़ स्कूल चलो अभियान, ऑपरेशन कायाकल्प सहित विभिन्न योजनाओं की बिंदुवार समीक्षा की एवं संबंधित को जरूरी निर्देश दिए।

Back to top button