लोकसभा चुनाव : गठबंधन में भाकपा व कांग्रेस को नजर अंदाज करना पड़ेगा भारी 

कांग्रेश और अन्य दलों का बन सकता है तीसरा फ्रंट 

वरुण सिंह/विनय शंकर राय
आजमगढ़/लालगंज। भारतीय कमुनिस्ट पार्टी ब्लॉक कमेटी लालगंज की एक मीटिंग देवगांव में पार्टी कार्यालय पर आयोजित की गई। उत्तर प्रदेश कार्यकारिणी सदस्य कामरेड हामिद अली ने कहा लोकसभा चुनावों को दृष्टिगत रखते हुए बन रहे गठबंधन में भाकपा व कांग्रेस को नजर अंदाज किया जाना भारी पड़ेगा। हम लोग प्रयासरत है कि कांग्रेस को लेकर एक तीसरा फ्रंट तैयार किया जाये। इसका प्रयास चल रहा है।
उन्होंने कहा आइंदा चुनावों में ब्लॉक प्रमुख का चुनाव सीधे जनता के जरिए होगा। अब क्षेत्र पंचायत सदस्य ही ब्लॉक प्रमुख का चुनाव नहीं करेंगे अपितु ब्लाक प्रमुख चुनाव सीधे जनता के द्वारा कराया जाएगा। इसके लिए सभी सेक्टर में हम निर्णय लेंगे तथा जनरल व सुरक्षित सभी सीटों पर मजबूती से लड़ेंगे। इस अवसर पर पार्टी की मजबूती के संबंध में भी कई ठोस निर्णय लिए गए।
एआईएसएफ के प्रदेश उपाध्यक्ष मुजम्मिल जाहिद अली ने कहा कि 18 फरवरी को पार्लियामेंट मार्च में शामिल होने के लिए उत्सर्ग ट्रेन से उनके सहयोगी जनपद से भी भारी संख्या में रवाना होंगे। मास्टर बशीर अहमद ने छात्रवृत्ति, कन्या धन बंद किए जाने पर नाराजगी व्यक्त की। सरकार की गलत रणनीति के कारण कल कारखाने बंद होने पर जनता से सीधे सरकार से जवाब मांगने की बात भी उन्होंने कही। उन्होंने कहा कि सरकार केवल पूंजीपतियों की सरकार है और आने वाले चुनाव में हम इसे उखाड़ फेंकेंगे। इस अवसर पर दिनेश सिंह, तेज बहादुर मौर्य, चंद्र मोहन यादव, जयप्रकाश राय, गंगादीन, शोभ नाथ यादव, कामरेड बसंत, रामजी तिवारी, जनार्दन, प्रदीप, राजेश सिंह, अनवर अली, आस मोहम्मद, दिनेश सिंह आदि ने भी अपने विचार व्यक्त किए। संचालन चंद्र मोहन ने किया। अंत ने दशरथ सिंह तथा मास्टर लौटन के निधन पर 2 मिनट का मौन धारण कर उन्हें श्रद्धांजलि अर्पित की गई।

Back to top button
E-Paper