मकसद है ड्यूटी न जाना, मांसाहारी होना तो सिर्फ बहाना

विजय प्रकाश मौर्य

लखनऊ। 2019 में प्रयागराज में लगने वाले कुंभ मेले में आने वाले श्रद्धालुओं की धार्मिक भावनाओं को ध्यान में रखते हुए इलाहाबाद जिला प्रशासन ने फैसला किया था कि मेले में उन्हीं पुलिसवालों की ड्यूटी लगाई जाएगी, जो मांसाहारी न हों, शराब व धूम्रपान का सेवन नहीं करते हों और मृदुभाषी भी हों। इतना ही नहीं विश्व के सबसे बड़े धार्मिक मेले में ड्यूटी करने वाले इन पुलिसवालों का इंटरव्यू एसएसपी लेने को कहा गया है और उन्हें अच्छे चरित्र का प्रमाण पत्र भी देने का निर्देश है।

Image result for कुम्भ में पुलिस तैनात

जानकार सूत्रों का कहना है 

इस फरमान के बाद अनेक पुलिसकर्मियों ने कुंभ ड्यूटी से बचने के लिए एक नया तरीका ढूंढ लिया है। अधिकांश सिपाही मांसाहार का सेवन करने लगे हैं और मदिरापान भी करने लगे हैं ताकि उन्हें कुंभ मेला ड्यूटी में न भेजा सके। इसके लिए वे खुद को मांसाहारी होने का लिखित प्रमाण भी दे रहे हैं। पुलिसकॢमयों में आए इस बदलाव से बड़े अफ़सर हैरान हैं। आपको बता दें कि डीआईजी कुंभ केपी सिंह ने कुछ दिन पहले पत्रकारों से बातचीत में कहा था कि शाहजहांपुर, पीलीभीत, बरेली और बदायूं के साथ अन्य जिलों के एसएसपी को निर्देश दिया गया है कि वे उन पुलिसकर्मियों के बारे में रिपोर्ट भेजें जो शाकाहारी हों तथा जिनका आचार व्यवहार सही हो।

Image result for कुम्भ में पुलिस तैनात

ड्यूटी के संबंध में डीजीपी के ये हैं निर्देश

डीजीपी के निर्देश के मुताबिक, 35 वर्ष की उम्र से अधिक के सिपाही, 40 वर्ष से अधिक के दीवान और 45 वर्ष की से अधिक के सब इंस्पेक्टर और इंस्पेक्टर की नहीं लगेगी ड्यूटी। मूलरूप से इलाहाबाद जिले के रहने वाले पुलिसकर्मियों की भी ड्यूटी नहीं लगाई जाएगी। मानसिक और शारीरिक रूप से स्वस्थ पुलिसकर्मियों की ही ड्यूटी लगाई जाएगी। कुंभ मेला, इलाहाबाद जिला और जीआरपी में ड्यूटी लगेगी। मदिरापान करने वाले और मांसाहार करने वाले पुलिस वालों की भी ड्यूटी नहीं लगाई जाएगी। निष्ठावान, उत्तम चाल, चरित्र और मृदुभाषी पुलिसकर्मी ही ड्यूटी में भेजे जाएंगे।

तीन चरणों में पुलिसकर्मियों की लगेगी ड्यूटी

मेले के लिए दूसरे जिलों से तीन चरणों में पुलिस वाले इलाहाबाद भेजे जाएंगे। पहले चरण में की ड्यूटी 25 सितंबर से शुरू हो जाएगी। दूसरे चरण की ड्यूटी 15 अक्टूबर से तथा तीसरे चरण की ड्यूटी 15 नवंबर से शुरू होगी।

पहला चरण : कुंभ मेला के लिए पांच उप निरीक्षक, चार दीवान, चार दीवान, 53 सिपाही, चार महिला सिपाही की ड्यूटी लगाई जाएगी।इलाहाबाद जिले के लिए एक इंस्पेक्टर, दो उप निरीक्षक, दो दीवान, 15 सिपाही और नौ महिला सिपाही तैनात किये जायेंगे।इलाहाबाद जीआरपी के लिए एक उप निरीक्षक, दो दीवान, 25 सिपाही और दो महिला सिपाही तैनात किये जायेंगे।

दूसरे चरण : कुंभ मेला के लिए एक इंस्पेक्टर, 13 उप निरीक्षक, 11 दीवान, 136 सिपाही, एक महिला उप निरीक्षक, एक महिला दीवान और नौ महिला सिपाही की ड्यूटी लगेगी। इलाहाबाद जिले के लिए पांच उप निरीक्षक, पांच दीवान, 40 सिपाही, नौ महिला सिपाही तैनात होंगे। इलाहाबाद जीआरपी के लिए तीन उप निरीक्षक, पांच दीवान, 59 सिपाही, दो महिला सिपाही तैनात किये जायेंगे।

तृतीय चरण: कुंभ मेला के लिए एक इंस्पेक्टर, 16 उप निरीक्षक, 13 दीवान, 170 सिपाही, एक महिला उप निरीक्षक, एक महिला दीवान और 10 महिला सिपाही की ड्यूटी लगेगी। इलाहाबाद जिले के लिए आठ उप निरीक्षक, आठ दीवान, 55 सिपाही, एक महिला सिपाही तैनात होंगे। इलाहाबाद जीआरपी के लिए तीन उप निरीक्षक, आठ दीवान, 70 सिपाही, एक महिला दीवान और दो महिला सिपाही तैनात किये जायेंगे।

Back to top button
E-Paper