केजीएमयू लैब में 1,636 जांच नमूनों में से 50 कोरोना संक्रमित, देवरिया के 15 रोगी

लखनऊ । प्रदेश में कोरोना मरीजों की संख्या बढ़ने का सिलसिला जारी है। राज्य की विभिन्न प्रयोगशालाओं में हर रोज लिये गये नमूनों में से कई में संक्रमण की पुष्टि हो रही है।

राजधानी की किंग जॉर्ज मेडिकल यूनिवर्सिटी (केजीएमयू) के माइक्रोबायोलॉजी विभाग में रविवार को जांच किये गए 1,636 नमूनों में 50 की रिपोर्ट सोमवार को पॉजिटिव आई। इनमें कई लोग ऐसे भी शामिल हैं, जिनकी ये दूसरी या तीसरी रिपोर्ट है।

इनमें देवरिया के 15, कन्नौज के 07, बस्ती, हरदोई व संभल में 05-05, उन्नाव के 04,आजमगढ़ के 03, लखनऊ व मुरादाबाद के 02-02 तथा महाराजगंज व शाहजहांपुर का 01-01 मरीज शामिल है।

रिपोर्ट के मुताबिक देवरिया के मरीजों में 20 वर्षीय युवक, 22 वर्षीय युवक, 08 वर्षीय बालक, 22 वर्षीय युवती, 55 वर्षीय पुरुष, 42 वर्षीय पुरुष, 43 वर्षीय पुरुष, 20 वर्षीय युवक, 39 वर्षीय पुरुष, 34 वर्षीय पुरुष, 17 वर्षीय युवक, 35 वर्षीय महिला, 15 वर्षीय बालक, 39 वर्षीय महिला और 41 वर्षीय पुरुष है।

कन्नौज के रोगियों में 14 वर्षीय बालिका, 11 वर्षीय बालिका, 29 वर्षीय पुरुष, 30 वर्षीय पुरुष, 30 वर्षीय पुरुष, 36 वर्षीय पुरुष और 20 वर्षीय युवक है। बस्ती के रोगियों में 60 वर्षीय पुरुष, 30 वर्षीय पुरुष, 31 वर्षीय पुरुष, 20 वर्षीय युवक और 33 वर्षीय पुरुष है।

हरदोई के मरीजों में 23 वर्षीय युवक, 18 वर्षीय युवक, 25 वर्षीय पुरुष, 30 वर्षीय पुरुष और 37 वर्षीय पुरुष है। संभल के रोगियों में 29 वर्षीय पुरुष, 27 वर्षीय पुरुष, 28 वर्षीय पुरुष, 18 वर्षीय युवक और 24 वर्षीय युवक है।

उन्नाव के रोगियों में 32 वर्षीय पुरुष, 27 वर्षीय पुरुष और 32 वर्षीय पुरुष है। आजमगढ़ के मरीजों में 50 वर्षीय पुरुष, 54 वर्षीय पुरुष और 75 वर्षीय पुरुष है। लखनऊ के मरीजों में 25 वर्षीय पुरुष व 31 वर्षीय पुरुष है। मुरादाबाद के रोगियों में 38 वर्षीय पुरुष और 50 वर्षीय पुरुष है। महाराजगंज के रोगी में 30 वर्षीय पुरुष व शाहजहांपुर के रोगी में 59 वर्षीय पुरुष है।

इसके अलावा अन्य प्रयोगशालाओं की रिपोर्ट में भी कई लोग कोरोना पॉजिटिव पाये गये हैं। इनमें गोरखपुर में 06, गाजियाबाद में 05, कासगंज में 02, कानपुर में 01, हाथरस में 01 संक्रमित मिला है।

वहीं बहराइच में फखरपुर थाने का सिपाही कोरोना पॉजिटिव निकला है। बताया जा रहा है कि बीते दिनों मदनकोठी के पास मुम्बई से प्रवासी मजदूरों के लेकर आ रहे ट्रक के दुर्घटनाग्रस्त होने के बाद घायलों को निकालने में ये सिपाही भी शामिल था। मजदूरों की जांच में पॉजिटिव आने पर 19 पुलिसकर्मियों को एकांतवास (क्वारंटाइन) में रखा गया था। वहीं अब रिपोर्ट के मुताबिक कोरोना पॉजिटिव सिपाही की बैरक को प्रतिबंधित कर दिया गया है। इसके साथ ही फखरपुर थाने के सभी पुलिस कर्मियों का कोरोना नमूना लिया जायेगा।

अन्य राज्यों से आए प्रवासी मजदूर अभी भी चिंता का सबब बने हुए हैं। मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने कहा है कि राज्य वापस आने वाले सभी श्रमिकों व कामगारों की स्क्रीनिंग कर उन्हें आवश्यकतानुसार एकांतवास केन्द्र (क्वारंटाइन सेन्टर) या घरेलू एकांतवास (होम क्वारंटाइन) पर भेजा जाए। घरेलू एकांतवास जाने वाले श्रमिकों, कामगारों को खाद्यान्न किट अवश्य दी जाए तथा इनके राशन कार्ड भी बनाए जाएं। साथ ही, इन्हें घरेलू एकांतवास के दौरान 1,000 रुपये का भरण-पोषण भत्ता भी उपलब्ध कराया जाए।

Back to top button
E-Paper