भारत में मोबिलिटी के लिए पीएम ने दिया 7 सी का विजन

नई दिल्ली । प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने शुक्रवार को यहां विश्व मोबिलिटी शिखर सम्मेलन का उद्घाटन करते हुए भारत में मोबिलिटी के भविष्य के लिए 7 सी का विजन दिया। उन्होंने कहा कि यह कॉमन, कनेक्टेड, कन्वीनिएंट, कंजेशन-फ्री, चार्ज्ड, क्लीन, कटिंग-एज पर आधारित है।

प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने कहा कि सुविधाजनक मोबिलिटी का मतलब समाज के सभी वर्गों के लिए सुरक्षा, किफायत और सुलभता है। इसमें बुजुर्गों, महिलाओं और विशेष रूप से दिव्यांग शामिल हैं। हमें यह सुनिश्चित करने की जरूरत है कि यात्रा के निजी साधनों के लिए सार्वजनिक परिवहन को प्राथमिकता दी जाए।

उन्होंने कहा कि भारत बढ़ रहा है| हमारी अर्थव्यवस्था बढ़ रही है| हम दुनिया की सबसे तेजी से बढ़ती प्रमुख अर्थव्यवस्था हैं| हमारे शहर और कस्बे बढ़ रहे हैं| हम 100 स्मार्ट शहरों का निर्माण कर रहे हैं।

उन्होंने कहा कि स्वच्छ ऊर्जा द्वारा संचालित स्वच्छ गतिशीलता जलवायु परिवर्तन के खिलाफ लड़ाई में हमारा सबसे शक्तिशाली हथियार है। इसका मतलब है प्रदूषण रहित स्वच्छ अभियान, जिससे स्वच्छ हवा और हमारे लोगों के लिए बेहतर जीवन स्तर बढ़ जाता है।

प्रधानमंत्री ने कहा कि भारत के उद्यमी और निर्माता अब ब्रेक-थ्रू बैटरी तकनीक को विकसित और तैनात करने के लिए तैयार हैं। उन्होंने कहा कि मोबिलिटी अर्थव्यवस्था का एक प्रमुख चालक है। बेहतर मोबिलिटी यात्रा और परिवहन के बोझ को कम कर देती है और आर्थिक विकास को बढ़ावा दे सकती है। यह पहले से ही एक प्रमुख नियोक्ता है और अगली पीढ़ी की नौकरियां पैदा कर सकता है।

Back to top button
E-Paper