सरेआम बिहार के मुखिया पर फेंकी चप्पल, जानिए क्यों ऐसा किया

बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार पर पटना में JDU के कार्यक्रम में ही शख्स ने सरेआम फेंकी चप्पल, जानें क्या है वजह

पटना: युवा शाखा की बैठक  के कार्यक्रम में बिहार के मुखिया और जनता दल यूनाइटेड के राष्ट्रीय अध्यक्ष नीतीश कुमार को एक कार्यक्रम के दौरान एक युवक के गुस्से का सामना करना पड़ा. बताते चले  दरअसल, पटना में JDU की युवा शाखा की बैठक में एक युवक ने मुख्यमंत्री पर चप्पल फेंकी. पार्टी में हाल ही में शामिल हुए प्रशांत किशोर भी मुख्यमंत्री के साथ मंच पर मौजूद थे. CM पर चप्पल फेंकने वाले युवक चंदन को पुलिस ने हिरासत में ले लिया, और उसका कहना है कि वह आरक्षण का विरोधी है और अगड़ी जाति के लोगों के लिए भी आरक्षण की मांग करता है.

बताया गया है कि पटना के बापू सभागार में चल रहे कार्यक्रम में प्रशांत किशोर पहली बार मुख्यमंत्री नीतीश कुमार के साथ किसी कार्यक्रम के मंच पर मौजूद थे. मिली जानकारी के मुताबिक, चंदन बिहार के औरंगाबाद का रहने वाला है, और उसका कहना है कि उसे आरक्षण के कारण ही नौकरी नहीं मिल पा रही है, और वह इसी वजह से बेरोज़गार है. वैसे, घटना के बाद JDU के छात्र विंग के सदस्यों ने चंदन की पिटाई भी कर दी थी. हालांकि, इसके बाद पुलिस ने उस शखस को हिरासत में ले लिया.

s3pmlqto
नीतीश कुमार पर चप्पल फेंकने वाले की कार्यकर्ताओं ने की पिटाई 
ush1531g
छात्र जदयू की बैठक में शामिल हुए नीतीश कुमार

इससे पूर्व भी कुछ साल पहले नीतीश कुमार पर एक युवक ने उनके जनता दरबार में चप्पल चलाया था. उस घटना के बाद नीतीश ने कहा था कि वह अभी भी उस कुर्ते को संभाल कर रखा है. बता दें कि हाल के दिनों में पूरे बिहार में दलित ऐक्ट को लेकर एनडीए नेताओं को जगह जगह काला झंडा दिखाया जा रहा है. लेकिन कभी भी चप्पल जूता चलाने की घटना नहीं हुई हैं. बिहार में मुख्यमंत्री नीतीश कुमार पर चप्पल फेंके जाने की यह पहली घटना है.

Back to top button
E-Paper