कामयाबी:पुलिस के लिए सिरदर्द बना कुख्यात बदमाश वसीम चीची गौकशी करते धरा गया

शहजाद अंसारी
बिजनौर . गोवंशीय पशुओं को काटकर मीट बेचने वाले नगीना पुलिस के लिए सिरदर्द बनकर हर रोज घटनाओं को अंजाम देने वालो को सलाखों के पीछे भेजने की पुलिस ने ठान ली है। सीओ नगीना अर्चना सिंह के निर्देशन में नगीना पुलिस ने काफी समय से कुख्यात वसीम उर्फ चीची को पुलिस मुठभेड़ में रंगे हाथों एक कुन्तल बीस किलो गौवंश के मीट के साथ पकड़ने में सफलता हासिल की। शातिर वसीम के पास से पुलिस ने एक तमंचा दो खोखे व व जिंदा कारतूस के साथ बांट तराजू व अन्य मीट काटने के उपकरण बरामद किए जबकि उसके तीन साथी फरार होने में कामयाब हो गए। थाना प्रभारी निरीक्षक संजय धीर ने बताया कि शातिर वसीम उर्फ चीची के खिलाफ जनपदभर में लगभग चार दर्जन अपराधिक मुकदमे दर्ज है। पुलिस ने शातिर अपराधी को मुकदमा दर्ज कर जेल भेज दिया।

   नगीना थाना क्षेत्र में सक्रिय गौ तस्करों व गौवंश को काटकर उसका मांस बेचने वालों के विरुद्ध एसपी संजीव त्यागी के कड़े निर्देश व नगीना सीओ अर्चना सिंह के पर्यवेक्षण व कोतवाल संजय धीर के निर्देशन में सक्रिय हुई नगीना पुलिस के इंस्पेक्टर (क्राइम) विनय कुमार, चौकी कस्बा प्रभारी एसआई अजय कुमार, एसआई पुत्तू लाल व कांस्टेबल उत्तम, आशीष व अभिषेक की टीम ने बुधवार की सुबह साढ़े तीन बजे मुखबिर की सूचना पर कस्बा कोटरा रोड शराब के ठेके के पीछे बाग में छापा मारा जहां हुई पुलिस मुठभेड़ के बाद पिछले काफी समय से पुलिस के लिए सिरदर्द बने शातिर वसीम उर्फ चीची पुत्र अब्दुल समी निवासी सराय मीर नगीना को पकड़ा जबकि उसके तीन साथी सानू उर्फ गोल्टा  पुत्र तसलीम, शाहिद व शाकिर उर्फ मुल्ला पुत्र गुलाम साबिर निवासीगण पटेरी नगीना फरार होने में कामयाब हो गए। पुलिस ने मौके से 120 किलो गोवंशीय मीट व मीट काटने के उपकरण बरामद किए वहीं वसीम उर्फ चीची से एक तमंचा व दो खोखे व दो जिंदा कारतूस व एक मोटरसाइकिल प्लेटिना भी बरामद किए। कोतवाल संजय धीर ने बताया कि शातिर वसीम उर्फ चीची के खिलाफ जनपदभर में 42 अपराधिक मुकदमे दर्ज है। शातिर वसीम उर्फ चीची को 3/5/8 गौवध निवारण अधिनियम धारा 307 आईपीसी व धारा 3/25 आर्म्स एक्ट के तहत जेल भेज दिया गया फरार आरोपियों को पुलिस सरगर्मी से तलाश कर रही है। गौकशी के लिए कुख्यात हो चुके वाहिद उर्फ टल्ली और वसीम चीची की गिरफ्तारी के बाद पुलिस ने राहत की सांस ली है।

Back to top button
E-Paper