यूपी : नहीं थम रहा अधिकारियो की मौत का सिलसिला, अब एसडीएम ने खुद को गोली के उड़ाया

ललितपुर। उत्तर प्रदेश में ललितपुर जिले की मड़ौरा तहसील में तैनात उपजिलधिकारी (एसडीएम) ने रविवार को अपने सुरक्षाकर्मी की राइफल से गोली मारकर आत्महत्या कर ली है। पुलिस अधीक्षक के अनुसार, यह घटना करीब साढ़े तीन बजे की है। एसडीएम ने केंद्रीय मंत्री उमा भारती के कार्यक्रम से लौटने के बाद आत्महत्या की है। पत्नी का कहना है कि वह बीमार बेटे के इलाज को लेकर काफी परेशान चल रहे थे। एसडीएम अपने घर मुरादाबाद तबादले के लिए प्रयास कर रहे थे पर कहीं भी नहीं सुनी गई। इस दौरान उन्हें छुट्टी भी नहीं मिल पा रही थी। जब कोई रास्ता नहीं सूझा तो खुदकुशी कर ली। पुलिस ने घटनास्थल से मिले एसडीएम के तीनों मोबाइल और अन्य सामान जब्त कर जांच शुरू कर दी है।

एसडीएम हेमेंद्र कांडपाल (Profile Photo)

मड़ावरा तहसील के एसडीएम हेमेंद्र कांडपाल (48) कार्यक्रम से लौटकर अपने सरकारी आवास आ गए। रसोई में कर्मचारी धनीराम खाना पका रहा था। इस बीच एसडीएम ने सुरक्षा में तैनात होमगार्ड संतोष के पास पहुंचे। उससे सरकारी राइफल और कारतूस मांगे। संतोष ने टोका तो हेमेंद्र झल्ला पड़े। घबराकर संतोष ने राइफल और कारतूस दे दिए। राइफल लेकर हेमेंद्र अपने कमरे में पहुंचे और कनपटी पर गोली मार ली, मौके पर ही उनकी मौत हो गई। गोली चलने की आवाज सुनकर धनीराम, चालक महेंद्र और दोनों होमगार्ड दौड़कर कमरे में पहुंचे तो नजारा देख उनके होश उड़ गए। एसडीएम का रक्तरंजित शव जमीन पर पड़ा था। गोली सिर को फाड़ते हुए निकल गई थी।आनन-फानन में मड़ावरा पुलिस के साथ आला अफसरों को घटना की सूचना दी गई। पुलिस ने राइफल, हेमेंद्र के मोबाइल और कमरे से कुछ चीजें कब्जे में ले लीं, जिसके बाद शव को पोस्टमार्टम के लिए भेजा गया। अधिकारियों ने मुरादाबाद फोन कर हेमेंद्र के परिजनों को जानकारी दी।

Back to top button
E-Paper