आतंकियों के निशाने पर यूपी के CM योगी आदित्यनाथ

लखनऊ। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के बाद अब प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ पर आतंकी हमले का खतरा है। इस बाबत अलर्ट जारी हो गया है। सीएम योगी आदित्यनाथ पर हमले की साजिश एनसीआर के साथ ही उत्तर प्रदेश में रची जा रही है। आतंकी हमले के दौरान ही सीएम योगी आदित्यनाथ को निशाना बनाने की योजना है। इस अलर्ट के बाद लखनऊ के साथ ही दौरे पर सीएम योगी आदित्यनाथ की सुरक्षा बढ़ा दी गई है।

Image result for aatanki

मध्यप्रदेश पुलिस के खुफिया विभाग ने दिल्ली और उत्तर प्रदेश पुलिस को अलर्ट जारी करते हुए जानकारी दी है कि उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ पर आतंकी हमला हो सकता है। इस अलर्ट में कहा गया है कि सीएम योगी आदित्यनाथ के दिल्ली प्रवास के समय भी उन पर हमला किया जा सकता है। जरूरी है कि उनकी सुरक्षा बढ़ाई जाए। इस अलर्ट के मुताबिक स्वतंत्रता दिवस पर उत्तर प्रदेश और एनसीआर में बड़ी आतंकी वारदात की साजिश रची जा रही है। हमले को अंजाम देने के लिए कम उम्र के लड़कों को जिम्मेदारी सौंपी गई है।

Image result for योगी एक्शन

अलर्ट में यह भी बताया गया है कि आतंकी यूपी के अहम धार्मिक स्थलों को निशाना बना सकते हैं। स्वतंत्रता दिवस (15 अगस्त) बेहद करीब है। पूरे देश में इसकी तैयारी बड़ी धूमधाम से की जा रही है इसी बीच मध्य प्रदेश पुलिस के खुफिया विभाग से जानकारी मिली कि उत्तर प्रदेश के सीएम योगी आदित्यनाथ पर आतंकी हमला हो सकता है। इसके लिए दिल्ली को भी अलर्ट किया गया है।

Image result for योगी एक्शन

अलर्ट में बताया गया है सीएम योगी जब दिल्ली में रहते हैं तब भी उनकी सुरक्षा बढ़ाए जाने की जरूरत है। एनसीआर में बड़ी वारदात को अंजाम देने के लिए कम उम्र के लड़कों को इसके लिए ट्रेंड किया गया है। यह सभी लड़के दिल्ली व एनसीआर को दहलाने की साजिश रच रहे हैं। इसके लिए धार्मिक स्थलों को भी निशाना बनाया जा सकता है।

मुख्यमंत्री ऑफिस की बढ़ाई गई

लखनऊ में मुख्यमंत्री कार्यालय एनेक्सी व लोक भवन में भी सुरक्षा व्यवस्था बढ़ा दी गई है। गृह विभाग से मिले अलर्ट बाद सुरक्षा में बढ़ोत्तरी की गई है। मुख्यमंत्री ऑफिस की तस्वीर एक दम बदल गई है। मेटल डिटेक्टर से लेकर पुलिस जवानों की संख्या सब कुछ चौकस कर दिया गया है। मुख्य पटल से इंट्री द्वार पर भी मेटल डिटेक्टर लगाया गया है। काफी संख्या में एलआईयू के जवानों को भी परिसर में तैनात किया गया हैं।

Back to top button
E-Paper