योगी सरकार ने दिए संकेत, मोदी सरकार की गाइडलाइन का इंतजार, लेकिन लॉकडाउन 4 होगा और भी सख्त

लखनऊ :  लॉकडाउन 4.0 सोमवार से शुरू हो रहा है। केंद्र सरकार इसके लिए गाइडलाइन जारी करने जा रही है। उत्तर प्रदेश सरकार केंद्र सरकार की इस गाइडलाइन का इंतजार कर रही है हालांकि यूपी में चौथे चरण के लॉकडाउन को लेकर सारी तैयारियां पूरी हो गई हैं। योगी आदित्यनाथ ने स्पष्ट कहा है कि यूपी में लॉकडाउन में कोई ढील नहीं दी जाएगी। अगर ऐसा किया गया तो कम्युनिटी स्प्रेड का खतरा है। 

एक चैनल के इंटरव्यू में योगी आदित्यनाथ ने कहा कि उन लोगों ने चौथे चरण के लॉकडाउन को लेकर तैयारियां पूरी कर ली हैं। अब केंद्र सरकार की ओर से गाइडलाइन आने का इंतजार किया जा रहा है। योगी ने कहा कि यूपी में भारी संख्या में प्रवासी श्रमिक आ रहे हैं। ऐसे में अगर लॉकडाउन में छूट दी गई तो यूपी की स्थिति गंभीर हो सकती है और यहां कम्युनिटी स्प्रेड हो सकता है। योगी ने स्पष्ट कहा है कि यूपी में कोई ढील नहीं दी जाएगी। 

अब अधिकारियों पर होगी कार्रवाई
पैदल, साइकल या ट्रकों में भरकर आ रहे प्रवासियों को लेकर योगी आदित्यनाथ ने स्पष्ट कहा है कि अब जिले के अधिकारियों पर कार्रवाई होगी। उन्होंने कहा कि वह बार-बार कह रहे हैं कि कोई भी श्रमिक पैदल न चले। उन्होंने औरैया मामले में भी मथुरा और आगरा के एसएचओ को सस्पेंड किया है। इसके अलावा डीएसपी को कठोर चेतावनी दी हैं। आईडी, डीआईडी स्तर के अधिकारियों से स्पष्टीकरण मांगा है। अब अगर प्रवासी कहीं भी पैदल चलते हुए या ट्रकों में इस तरह भरकर आते हुए नजर आए तो जिले के अधिकारियों की जवाबदेही तय की जाएगी।
 

राहुल गांधी, मायावती और अखिलेश पर निशाना
योगी आदित्यनाथ ने इशारों-इशारों में कांग्रेस लीडर राहुल गांधी पर निशाना साधा। उन्होंने कहा कि आज उनको अपने कृत्यों के बारे में सोचना चाहिए। जो लोग आज पारदर्शी व्यवस्था पर उंगलि उठा रहे हैं वह सोचे जब एक दल विशेष के लोग रुपया चट कर जाते थे। गरीबों को कुछ नहीं मिलता था। आज गरीबों के खाते में सीधे रुपया जा रहा है। वहीं योगी ने मायावती और अखिलेश पर कहा कि वे लोग नकारात्मक राजनीति कर रहे हैं। वह सहयोग नहीं कर सकते, सिर्फ बयानबाजी ही कर सकते हैं।

‘जमाती दोषी, प्रवासी श्रमिक परेशान’
योगी आदित्यनाथ ने जमातियों पर कोरोना फैलाने का आरोप लगाया था। अब प्रवासियों पर कोरोना फैलाने का आरोप लग रहा है। इस मामले में योगी ने कहा कि प्रवासियों को जमातियों से जोड़ना ठीक नहीं है। प्रवासी परेशान है, दुखी है, प्रताड़ित है। वह जानबूझकर कोरोना का कैरियर नहीं बन रहा है। जबकि जमातियों ने जानबूझकर कोरोना फैलाया और वह पूरे देश में कोरोना वायरस के कैरियर बने।

Back to top button
E-Paper