जानिए ओमिक्रॉन के खतरे के बीच किस-किस राज्य ने क्या-क्या ऐहतियाती कदम उठाए ?

कर्नाटक में गुरुवार को कोराना वायरस के 32 म्यूटेंट वाले ओमिक्रॉन वेरिएंट के दो मामले सामने आने के बाद शुक्रवार को केंद्र सरकार ने राज्यों को ऐहतियाती कदम उठाते हुए अपनी गाइडलाइंस में संशोधन के लिए कहा है।इसके बाद कर्नाटक सहित कई राज्यों ने कड़े कदम उठाए हैं। हालांकि, कुछ राज्यों ने पहले ही अपनी गाइडलाइंस में संशोधन कर दिया है।ऐसे में यहां जानते हैं कि अब तक किन-किन राज्यों ने क्या-क्या ऐहतियाती कदम उठाए हैं।पृष्ठभूमि

ओमिक्रॉन वेरिएंट के मामले रखने वाला 30वां देश बना भारत

बता दें कि कर्नाटक में गुरुवार को एक 46 वर्षीय डॉक्टर और 66 वर्षीय दक्षिणी अफ्रीकी नागरिक के ओमिक्रॉन वेरिएंट से संक्रमित होने की पुष्टि हुई थी।चौंकाने वाली बात यह रही कि अफ्रीकी नागरिक 27 नवंबर को UAE लौट चुका है।इसी तरह भारत ओमिक्रॉन वेरिएंट के मामले रखने वाला दुनिया का 30वां देश बन गया है।ऐसे में इसकी गंभीरता को देखते हुए राज्यों ने अब सजगता बरतते हुए सख्त कदम उठाने शुरू कर दिए हैं।#1

कर्नाटक में पूर्ण वैक्सीनेशन वालों को ही मिलेगा मॉल्स और सिनेमाघरों में प्रवेश

कर्नाटक सरकार ने शुक्रवार को अपनी गाइडलाइंस में संशोधन करते हुए राज्य के हवाई अड्डों पर आने वाले सभी अंतरराष्ट्रीय यात्रियों का RT-PCR टेस्ट करने, वैक्सीन की दोनों खुराक लगवाने वालों को ही मॉल्स और सिनेमाघरों में प्रवेश देने तथा उनके ही बच्चों को स्कूलों में ऑफलाइन कक्षाओं की अनुमति देने का निर्णय किया है।इसके अलावा स्कूलों और कॉलेजों को सभी सांस्कृतिक गतिविधियों को 15 जनवरी 2022 तक स्थगित कर दिया गया हैं।जानकारी

शादी समारोह में रहेगी अधिकतम 500 लोगों की अनुमति

कर्नाटक सरकार ने शादी समारोह में अधिकतम 500 लोगों की अनुमति देने का निर्णय किया है। इसके अलावा वहां पर कोरोना प्रोटोकॉल के पालन की जिम्मेदारी भी आयोजक पर डाली गई है। उल्लंघन पर उनके खिलाफ सख्त कार्रवाई की जाएगी।#2

दिल्ली में ‘जोखिम’ श्रेणी वाले देशों के यात्रियों का हो रहा RT-PCR टेस्ट

दिल्ली सरकार ने केंद्र सरकार द्वारा बताए गए ‘जोखिम’ श्रेणी वाले देशों से आने वाले सभी यात्रियों का RT-PCR टेस्ट अनिवार्य कर दिया है।इनमें यूरोपीय देश, यूनाइटेड किंगडम (UK), दक्षिण अफ्रीका, बोत्सवाना, ब्राजील, चीन, मॉरीशस, न्यूजीलैंड, जिम्बाब्वे, सिंगापुर, हांगकांग और इजराइल शामिल हैं।इसी तरह हवाई अड्डों पर यात्रियों की सुविधा के लिए अलग से कोरोना जांच काउंटर स्थापित करने के साथ टेस्ट की कीमत 3,900 रुपये से घटाकर 3,500 रुपये की गई है।#3

उत्तर प्रदेश सरकार ने राज्य की सीमाओं और हवाई हड्डों पर बढ़ाई स्क्रीनिंग

उत्तर प्रदेश सरकार ने शुक्रवार को राज्य की सीमाओं पर स्क्रीनिंग तेज करने और निगरानी को मजबूत करने का फैसला किया। इसी तरह हवाई अड्डों पर आने वाले विदेशी नागरिकों का RT-PCR टेस्ट करने का भी निर्णय किया है।मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने अधिकारियों को कोरोना संक्रमितों के सैंपलों की लखनऊ के KGMU और PGI जीनोम सीक्सेसिंग कराने, अन्य बीमारियों के प्रसार को रोकने के लिए व्यापक सफाई, स्वच्छता और फॉगिंग अभियान जारी रखने के निर्देश दिए हैं।#4

महाराष्ट्र सरकार ने उठाया संस्थागत क्वारंटाइन का कदम

महाराष्ट्र सरकार की संशोधित गाइडलाइंस में दक्षिण अफ्रीका, बोत्सवाना और जिम्बाब्वे को ‘बेहद गंभीर’ में शामिल किया गया है। ऐसे में अब इन देशों से आने वाले यात्रियों को एक सप्ताह के लिए अनिवार्य रूप से संस्थागत क्वारंटाइन में रहना होगा।इसी तरह यह नियम उन लोगों पर भी लागू होगा जो भारत आने के 15 दिन पहले बेहद गंभीर श्रेणी वाले देशों की यात्रा करके लौटे हैं या फिर जिनमें हल्के लक्षण दिखाई दे रहे हैं।गंभीर

गंभीर श्रेणी के देशों से आने वालों को नहीं रहना होगा संस्थागत क्वारंटाइन

महाराष्ट्र सरकार ने यूनाइटेड किंगडम (UK), जर्मनी, स्‍पेन, बेल्जियम, इटली जैसे यूरोपीय देशों को गंभीर श्रेणी में शामिल किया है।इन देशों से आने वाले यात्रियों को एक सप्ताह के लिए संस्थागत क्वारंटाइन तो नहीं रहना होगा, लेकिन हवाई अड्डे पर उनका RT-PCR टेस्ट किया जाएगा।संक्रमित मिलने पर उन्हें संस्थागत क्वारंटाइन में भेजा जाएगा और रिपोर्ट के निगेटिव आने पर भी उन्हें एक सप्ताह के होम क्वारंटाइन में रहना होगा।जानकारी

घरेलू यात्रियों को दिखाना होगा वैक्सीनेशन प्रमाण पत्र

इसी तरह घेरलू यात्रियों को महाराष्ट्र पहुंचने पर पूर्ण वैक्सीनेशन का प्रमाण पत्र या फिर 48 घंटे पुरानी RT-PCR टेस्ट की निगेटिव रिपोर्ट दिखानी होगी। इसके अलावा उन्हें अपनी पिछले 15 दिनों की यात्रा का विवरण भी उपलब्ध कराना होगा।#5

गुजरात सरकार ने आठ शहरों में बढ़ाया नाइट कर्फ्यू

गुजरात सरकार ने कोरोना के बढ़ते मामले और ओमिक्रॉन के खतरे को देखते हुए गांधीनगर, अहमदाबाद, सूरत, वडोदरा, राजकोट, जामनगर, भावनगर और जूनागढ़ में रात 1 बजे से सुबह 5 बजे तक नाइट कर्फ्यू लागू किया है।इन शहरों में व्यावसायिक प्रतिष्ठान रात 12 बजे तक खुले रह सकते हैं और रेस्तरां 75 प्रतिशत क्षमता के साथ खुल सकते हैं। शादी समारोह में 400 और अंतिम संस्कार में अधिकतम 100 लोगों को शामिल होने की अनुमति दी गई है।जानकारी

पश्चिम बंगाल सरकार ने 31 दिसंबर तक बढ़ाए प्रतिबंध

पश्चिम बंगाल सरकार ने कोरोना प्रतिबंधों को 31 दिसंबर तक बढ़ा दिया है। शहरों में रात 11 बजे से सुबह 5 बजे तक नाइट कर्फ्यू जारी रहेगा। इस दौरान आवश्यक सेवाओं से जुड़ी दुकानों का कोरोना प्रोटोकॉल के पालन के साथ संचालन किया जा सकेगा।ओमिक्रॉन

क्यों खतरनाक माना जा रहा है ओमिक्रॉन वेरिएंट?

दक्षिण अफ्रीका, हांगकांग और बोत्सवाना समेत 29 देशों में मिल चुके ओमिक्रॉन वेरिएंट का वैज्ञानिक नाम B.1.1.529 है और इसकी स्पाइक प्रोटीन में 32 म्यूटेशन हैं।विशेषज्ञों के अनुसार, वेरिएंट वायरस के अन्य वेरिएंट्स की तुलना में अधिक संक्रामक और खतरनाक हो सकता है। इसके वैक्सीनों को चकमा देने की आशंका भी लगाई जा रही है।विश्व स्वास्थ्य संगठन (WHO) ने इसे ‘वेरिएंट ऑफ कंसर्न’ बताया है और इस ऐलान के बाद कई देश यात्रा प्रतिबंध लागू कर चुके हैं।

Back to top button
E-Paper