2019 का महासंग्राम : अखिलेश कन्नौज से और मुलायम मैनपुरी से लड़ेंगे लोकसभा चुनाव

परिवारवाद के मुद्दे पर अखिलेश ने कहा कि बीजेपी अपना परिवारवाद खत्म नहीं कर रही है तो मैंने भी तय किया है कि इस बार मैं खुद कन्नौज से लोकसभा चुनाव लड़ूंगा. मुलायम सिंह यादव को मैनपुरी लोकसभा सीट से जिताने का काम पार्टी कार्यकर्ता करेंगे.

कन्नौज: सपा प्रमुख अखिलेश यादव ने कहा कि वे कन्नौज सीट से लोकसभा चुनाव लड़ेंगे, जबकि मुलायम सिंह यादव मैनपुरी सीट से चुनाव लड़ेंगे. कन्नौज में कार्यकर्ताओं की चुनावी समीक्षा बैठक के दौरान अखिलेश यादव ने कहा कि सभी लोकसभा सीट की तैयारियों की समीक्षा मैं खुद करूंगा. गठबंधन को लेकर उन्होंने ज्यादा कुछ नहीं बोला, लेकिन गठबंधन में फिलहाल सपा और बसपा शामिल है. हो सकता है कि कांग्रेस भी इस गठबंधन में शामिल हो. इसलिए, सीटों के बंटवारे को लेकर वे ज्यादा कुछ नहीं बोले. उन्होंने कहा कि सही वक्त पर सीटों को लेकर उचित फैसला लिया जाएगा. डिंपल यादव के चुनाव लड़ने को लेकर अखिलेश ने कहा कि वे इस बार चुनाव नहीं लड़ेंगी. बता दें, डिंपल यादव वर्तमान में कन्नौज सीट से सांसद हैं. इसी सीट से अखिलेश ने आगामी लोकसभा चुनाव लड़ने का फैसला किया है.

सही वक्त पर होगा सीटों को लेकर फैसला- अखिलेश
अखिलेश ने पार्टी के कार्यकर्ताओं से अपील की कि वे हर हाल में गठबंधन के उम्मीदवारों को जिताने का काम करेंगे. गठबंधन का प्रत्याशी मतलब वह हम सभी का प्रत्याशी होगा. परिवारवाद के मुद्दे पर अखिलेश यादव ने कहा कि बीजेपी अपना परिवारवाद खत्म नहीं कर रही है तो मैंने भी तय किया है कि इस बार मैं खुद कन्नौज से और मुलायम सिंह मैनपुरी से चुनाव लड़ेंगे. हमें जिताने का काम पार्टी के कार्यकर्ता करेंगे.

ये मैनेजमेंट का चुनाव है- अखिलेश
चुनाव की रणनीति पर अखिलेश ने कहा कि जब मैं दूसरे दलों की रणनीति को समझने की कोशिश करता हूं तो समझ आता है कि ये मैनेजमेंट का चुनाव है. अब सपा भी इस रणनीति की मदद से बीजेपी को हराने का काम करेगी.कांग्रेस की रोजा इफ्तार पार्टी में शामिल होने को लेकर उन्होंने कहा कि शायद हमारी पार्टी के लोग उस पार्टी में शामिल हुए होंगे.

बीजेपी को ‘सच्चाई पर चर्चा’ करनी चाहिए
बीजेपी के लोग पहले ‘चाय पर चर्चा’ किया करते थे, अब इन्हें ‘सच्चाई पर चर्चा’ करनी चाहिए, क्योंकि ‘संपर्क से समर्थन’ नहीं मिलेगा. बीजेपी को ‘सच्चाई से समर्थन’ मिल सकता है. बीजेपी के पास बताने के लिए कुछ नहीं है. अभी भी समाजवादियों के शुरू किए गए कार्य का फीता काट रहे हैं. जनता को ये समझाना समाजवादियों का काम है, क्योंकि बीजेपी जनता को गुमराम करने में माहिर है.

जवानों को फेंसिंग के बाहर LOC पर खड़ा कर दिया है
बॉर्डर पर जवानों के शहीद होने के मुद्दे पर कहा कि पहले फौज फेंसिंग के अंदर खड़ी रहती थी, लेकिन बीजेपी की सरकार ने अब फौज को फेंसिंग के बाहर LOC पर खड़ा कर दिया है. अगर वहीं खड़ा करना है तो LOC पर ही फेंसिंग कर दें ताकि जवानों को बेवजह अपनी शहादत ना देनी पड़े.

टॉपर्स के चेक बाउंस कैसे हो गए, सरकार जवाब दे
उत्तर प्रदेश बोर्ड परीक्षाओं के टॉपर्स के चेक बाउंस होने पर उन्होंने कहा कि सरकार बताए कि आखिरकार जनता का पैसा कहां जा रहा है. खातों में क्यों पैसा नहीं है ?
हम अपनी रणनीति का खुलासा नहीं करेंगे, क्योंकि हमने 4 चुनाव लगातार बीजेपी को हराए हैं और ये लोग अब बहुत गुस्से में बैठे हैं.

Back to top button
E-Paper