दिमागी बुखार की रोकथाम के लिए जुलाई में 38 जनपदों में चलेगा अभियान

लखनऊ। प्रदेश में दिमागी बुखार की प्रभारी रोकथाम के लिए विशेष संचारी रोग नियंत्रण पखवाड़े का शुभार भ दो जुलाई से होगा। इस बार यह अभियान पूरे जुलाई माह भर चलेगा। यह अभियान प्रदेश के 38 जनपदों में चलेगा। यह जानकारी स्वास्थ्य महानिदेशक डा. पदमाकर सिंह ने दी। बताया कि मुख्यमंत्री के निर्देश के मुताबिक इस अभियान में स्वास्थ्य को 11 अन्य विभाग मदद कर रहे हैं।

Image result for दिमागी बुखार

इस अभियान का मुख्य उद्देश्य दिमागी बुखार की रोकथाम करना तथा मरीजों को त्वरित उपचार उपलब्ध कराने के साथ जन जागरूकता फैलाना है। निदेशक संक्रामक व वेक्टर जनित डा. मिथिलेश चतुर्वेदी ने बताया कि गोरखपुर तथा सिद्धार्थनगर जनपदों के पिपराई तथा उस्का बाजार ब्लाक में रोगियों के त्वरित तथा सुलभ उपचार हेतु टाटा ट्रस्ट पैरा मेडिकल स्टाफ तथा अत्याधुनिक सुविधाओं से युक्त छ: मोबाइल मेडिकल यूनिट उपलब्ध करा रहा है। इसी तरह गोरखपुर तथा महराजगंज जनपदों में दिमागी बुखार के विषय में जनजागरूकता फैलाने के उद्देश्य से प्लान इण्डिया संस्था 1500 ग्रामों में एलईडी युक्त मोबाइल प्रचार वाहनों के माध्यम से व्यापक प्रचार प्रसार हो रहा है।

वहीं पाथ संस्था ने बस्ती तथा गोरखपुर मण्डलों के 28 बाल रोग विशेषज्ञों को मास्टर ट्रेनर के रूप में प्रशिक्षण दिया गया है। इसके अलावा गोरखपुर जनपद की 12 स्टाफ नर्स को भी मास्टर ट्रेनर के रूप में प्रशिक्षण कराया गया है। डा. मिथिलेश चतुर्वेदी ने बताया कि दस्तक 1 अभियान में रोग से बचाव के उपायों पर बल दिया गया था। दस्तक के दूसरे अभियान में इसके साथ रोग के त्वरित उपचार तथा इसके लिए सरकार द्वारा उपलब्ध कराई जा रही सुविधाओं के विषय में बताया जायेगा।

Back to top button
E-Paper