कोरोना संकट: मुंबई के KEM अस्‍पताल का वीडियो फिर हुआ वायरल, भाजपा विधायक ने लगाया ये आरोप

मुंबई :  पूरे देश में कोरोना वायरस (Coronavirus) की सबसे अधिक मार महाराष्ट्र (coronavirus in maharashtra)पर पड़ी है। राज्य में भी सर्वाधिक कोरोना पॉजिटिव मरीज मुंबई में हैं। भयावह होती जा रही स्थिति के बावजूद यहां लापरवाही कम होने का नाम नहीं ले रही है। बीजेपी के विधायक ने आरोप लगाया है कि हॉस्पिटल में बेड के अभाव में मरीज फर्श पर पड़े हुए हैं।


बीजेपी विधायक और प्रवक्ता राम कदम ने महाराष्ट्र कर सरकार पर गंभीर आरोप लगाए हैं। कदम ने वीडियो पोस्ट करते हुए लिखा कि मुंबई के अस्पतालों में बेड नहीं है और कोरोना ग्रसित लोग घरों में पड़े हैं। उन्होंने कहा, ‘मुंबई के किसी भी हॉस्पिटल में चाहे वह प्राइवेट हो, सरकारी हो या बीएमसी का हो। बेड उपलब्ध नहीं है। ना ऑक्सिजन है, ना वेंटिलेटर है। कुछ भी उपलब्ध नहीं है।’

घाटकोपर से बीजेपी विधायक राम कदम ने कहा, ‘कल 3 मरीजों को ऐडमिट करने के लिए मैंने स्वयं हॉस्पिटल में फोन किया। कई घंटों की कोशिश के बाद मरीजों को ऐडमिट तो कर लिया लेकिन 65 वर्ष के बुजुर्ग पेशेंट को केईएम अस्पताल में अब तक बेड नहीं मिला है। यह हालात अब है 15 दिन के बाद। तो लोगों को घर पर ही मौत से जूझते हुए क्या मरना होगा?’ 

गौरतलब है कि अभी हाल ही में मुंबई के सायन अस्पताल (sion hospital) का एक हैरान करने वाला वीडियो वायरल हुआ था। वायरल वीडियो में दिख रहा था कि अस्पताल के वॉर्ड में कई मरीज बेड पर लेटे हैं। मरीजों के बीच में काले प्लास्टिक के बैगों में कोरोना पॉजिटिव मरीजों के शव भी वॉर्ड के बेडों पर रखे हुए थे। कुछ शवों को कपड़ों से तो कुछ कंबल से ढका गया था। वीडियो में दिख रहा था कि वॉर्ड में मरीजों के बीच शव रखे हैं। 

महाराष्ट्र में कोरोना वायरस ने गंभीर रूप ले लिया है। अब यहां कोरोना की वजह से हर 2 दिनों में 100 लोगों की मौत हो जा रही है। राज्य में Covid-19 के 27 हजार 524 केस सामने आ चुके हैं, जबकि मृतकों की संख्या एक हजार को पार कर 1019 तक पहुंच गई है। इसी बीच कोरोना से बिगड़ते हालात के मद्देनजर हॉटस्पाट इलाकों में 31 मई तक लॉकडाउन बढ़ा दिया गया है।

Back to top button
E-Paper