मेजर की तीन और प्रेमिका का हुआ खौफनाक खुलासा, ऐसे फंसाया था अपने प्यार के जाल में…

नई दिल्ली: दिल्‍ली के कैंट इलाके में हुए मेजर अमित द्विवेदी की पत्‍नी शैलजा द्विवेदी की मौत में नया खुलासा हुआ है। पुलिस ने एकतरफा प्रेम में पागल हो मेजर अमित द्विवेदी की पत्नी शैलजा की हत्या करने वाले मेजर निखिल हांडा को 24 घंटे में गिरफ्तार तो कर लिया, लेकिन पुलिस से पहले इस हत्या के बारे में दिल्ली की ही एक महिला को पता लग गया था।

जानकारी के मुताबिक,

Image result for दिल्ली मर्डर शैलजा

यह महिला कोई और नहीं बल्कि मेजर निखिल हांडा की ही एक और गर्लफ्रेंड है। पुलिस निखिल हांडा की इस गर्लफ्रेंड से पूछताछ भी कर चुकी है। पुलिस के मुताबिक शैलजा का कत्ल करने के बाद मेजर निखिल हांडा ने अपनी इस गर्लफ्रेंड को फोन कर सबसे पहले हत्या की बात बता दी थी।  जानकारी के मुताबिक, मेजर निखिल हांडा की यह गर्लफ्रेंड दिल्ली के ही पटेल नगर इलाके में रहती है.

हांडा ने सोमवार को पूछताछ के दौरा पुलिस को बताया कि शैलजा के अलावा उसकी तीन और गर्लफ्रेंड थी। वह महिलाओं को फंसाने के लिए फेक सोशल मीडिया आईडी का इस्तेमाल करता था। जिस गर्लफ्रेंड से पुलिस ने पूछताछ की उसके अलावा भी उसकी दो गर्लफ्रेंड थी।

हांडा ने पुलिस को बताया

इस गर्लफ्रेंड के अलावा दो अन्य महिलाओं से भी मेरी लगातार बातचीत होती थी। इनमें एक महिला तलाकशुदा है जिससे मैं लगातार कई-कई घंटे चैट करता था। हत्या करने के बाद मैंने दिल्ली की रहने वाली अपनी महिला मित्र को फोन किया। हम दोनों पिछले कई साल से एक दूसरे को जानते हैं। मैं अपने दिल की बात अक्सर इसी गर्लफ्रेंड से करता था। इन सबको वह सोशल मीडिया के द्वारा फंसाया था।

पुलिस उपायुक्त (पश्चिम) विजय कुमार ने कहा कि मेजर निखिल हंडा मृतक महिला से “आसक्त ’’ था और उससे शादी करना चाहता था। पुलिस के एक अन्य अधिकारी ने दावा किया कि महिला और आरोपी के बीच प्रेम संबंध था।

क्या कहते है डीसीपी

डीसीपी ने बताया कि दो बच्चों के पिता मेजर हांडा 2015 से महिला और उसके मेजर पति को जानता था जब वह दोनों नगालैंड में तैनात थे। महिला के पति ने अस्पताल के सीसीटीवी फुटेज में मेजर हांडा को देखा जहां उनकी पत्नी फिजियोथेरेपी के लिए गई थीं और वहां से लापता हो गई थीं। मेजर ने पुलिस को बताया कि उन्हें मेजर हांडा पर संदेह है।

इसके बाद पुलिस ने हांडा की तलाश की और पाया कि वह मेरठ छावनी के ऑफिसर्स मेस में छिपा हुआ था और कुछ दोस्तों के संपर्क में था। अधिकारियों ने बताया कि दिल्ली पुलिस की एक टीम मेरठ पहुंची और मेजर हांडा को हिरासत में लेकर मेरठ की पुलिस को सूचित कर दिया। आरोपी मेजर दीमापुर से करीब 15 दिन पहले इलाज के नाम पर दिल्ली आया था।

Back to top button
E-Paper