पेट्रोल, डीजल पर सरकार का बड़ा ऐलान, 2.5 रुपए कम किये दाम, घटाई एक्साइज ड्यूटी 

नई दिल्ली: वित्तमंत्री अरुण जेटली ने आज बड़ा एलान किया। पेट्रोल और डीजल पर एक्साइज ड्यूटी 2.5 रुपए प्रति लीटर घटा दी है। अरुण जेटली ने कहा कि ब्रेंट की कीमत कीमत 86 डॉलर के पार कर गई है। इसके तहत सरकार 1.5 रुपए प्रति लीटर एक्साइज ड्यूटी घटाएगी। वहीं तेल कंपनियां भी अपनी तरफ से 1 रुपए दाम करेंगी। इससे इस साल सरकार पर 10,500 करोड़ रुपए का भार आएगा।

Finance Minister Arun Jaitley

देश के अधिकतर राज्यों मे में बीजेपी की सरकार है

ऐसे में पेट्रोल और डीजल के भाव 5 रुपए प्रति लीटर घटना तय है। वित्तमंत्री ने कहा कि वो राज्यों को लिखेंगे कि पेट्रोल और डीजल की कीमत 2.5 रुपए घटाई जाए। इस तरह से पेट्रोल और डीजल पर आम आदमी को 5 रुपए की राहत लोगों को मिलेगी। जेटली ने कहा कि अमेरिका में ब्याज दर 3.2 फीसदी हो गई ये भी सबसे ज्यादा है। इन दोनों के कारण पूरे विश्व के बाजारों पर असर पड़ा। इसका असर शेयर बाजार और करेंसी मार्केट पर भी पड़ा।

इस खबर के बाद तेल कंपनियों के शेयरों में बड़ी गिरावट आ गई। HPCL का शेयर 22फीसदी से ज्यादा गिर गया। वहीं ONGC का शेयर भी 10 फीसदी गिर गया। IOC का शेयर 18 फीसदी गिर गया। BPCL का शेयर 18 फीसदी गिर गया।

अरुण जेटली ने कहा कि हमारे घरेलू संकेत मजबूत हैं

करेंट अकाउंट डेफिसिट को छोड़कर बाकि आंकड़े मजबूत हैं। तेल कंपनियों को फॉरेन करेंसी बॉड से 10 अरब डॉलर जुटाने की मंजूरी दी। उन्होंने कहा कि IL&FS का बोर्ड सरकार ने भंग कर नया बोर्ड बनाया।

आज दिल्ली में पेट्रोल के भाव 15 पैसे बढ़कर 84 रुपए प्रति लीटर हो गए। वहीं डीजल के भाव 20 पैसे बढ़कर 75.45 रुपए प्रति लीटर हो गया। मुंबई में पेट्रोल के भाव 14 पैसे बढ़कर 91.34 रुपए प्रति लीटर हो गया। वहीं डीजल का भाव 80 रुपए प्रति लीटर के लेवल को पार कर गया। ब्रेंट क्रूड में लगातार तेजी जारी है। ये 4 साल के ऊंचे स्तर पर पहुंच गया है। ब्रेंट क्रूड का आज भाव 85 डॉलर प्रति बैरल हो गया।

दूसरी तरफ आज शेयर बाजार में भी 850 प्वाइंट की गिरावट आई। रुपया 73.70 के स्तर पर पहुंच गया। डॉलर के मुकाबले रुपया लगातार कमजोर हो रहा है। रिजर्व बैंक की 3 दिन तक चलने वाली क्रेडिट पॉलिसी की बैठक भी चल रही है। इसमें RBI के दरें 0.25 फीसदी बढ़ा सकती है।

Back to top button
E-Paper