अमेठी में एक बार फिर पोस्टर वार से गरमाई राजनीति, भाजपा-कांग्रेस आमने-सामने..

कांग्रेस के  ‘लापता सांसद से सवाल”  के  पोस्टर के बाद भाजपा का जबाबी पोस्टर।  

अमेठी। लॉकडाउन में अमेठी लोकसभा क्षेत्र में एक बार फिर पोस्टर वार शुरू हो गया है। सोमवार को लोकसभा क्षेत्र में सांसद व केंद्रीय मंत्री स्मृति ईरानी के खिलाफ “लापता सांसद से सवाल” नाम के पोस्टर लगाए गए। पोस्टर में लिखा है कि, “अमेठी से सांसद बनने के बाद (सालभर में 2 दिन) महज कुछ घंटों में अपनी उपस्थित दर्ज कराने वाली सांसद अमेठी स्मृति ईरानी जी आज करोना महामारी के दर्द से अमेठी की समस्त जनता भयभीत और त्रस्त है ।

हम यह नहीं कहते कि आप गायब हैं। पोस्टर में यह भी लिखा गया है कि  हमने आपको ट्विटर के माध्यम से अंताक्षरी खेलते हुए देखा है हमने आपके माध्यम से एकाध व्यक्तित्व को लंच देते हुए देखा है लेकिन अमेठी के सांसद होने के नाते से आज इस विपरीत समय में अमेठी की मासूम जनता अपनी आवश्यकता व परेशानियों के लिए आपको ढूंढ रही है विगत कई महीनों की परेशानियों के बीच में यूँ ही अमेठी की जनता को निराश्रित छोड़ देना यह दर्शाता है कि शायद अमेठी उनके लिए यह महज टूर हब है। क्या आप अमेठी में सिर्फ कन्धा देने आएंगी? 

आपको बता दे कि यह पोस्टर अमेठी के शाहगढ़ ब्लॉक बहोरखा प्राथमिक पाठशाला के पास,और वहीं आस पास के खंभों में, जामो के अतरौली में पोस्टर चस्पा दिया गया है। चिपकाए गये पोस्टर में किसी का नाम भी नहीं लिखा है।पोस्टर लापता सांसद से सवाल के बाद आये जबाबी  पोस्टर में कांग्रेस पर अमेठी में हार के बाद बर्बाद करने की कसम को निभाने के आरोप के साथ यह कहा गया है कि स्मृति ईरानी इस कोरोना काल के दौरान क्षेत्र के लोगों में मोदी किट, रोजगार, टेलीमेडिकल सुविधा उपलब्ध करा रही हैं और कांग्रेसी जान का ख़तरा। 

पोस्टर में जिलाधिकारी अमेठी के पत्र के हवाले से राजस्थान सरकार द्वारा बिना जांच व अनुमति अवैधानिक तरीके से अमेठी के कुछ लोगों को चोरी छुपे निजी बस से अजमेर से अमेठी भेजने व कांग्रेस जिलाध्यक्ष द्वारा नियम तोड़ गौरीगंज में जांच केंद्र में जाकर राजस्थान से आये 72 मजदूरों से मिलने के आरोप सहित कोरोना फैलाने के गंभीर आरोप लगाये गए हैं। भाजपा नेता गोविंद सिंह ने बताया कि लापता सांसद कह कर सवाल करने वाले लोग देश की व्यवस्था के खिलाफ बोलने वाले लोग हैं। लॉक डाउन के दौरान विशेष परिस्थितियों को छोड़कर केंद्र और राज्यों के मंत्रियों को जनता के बीच जाने की मनाही है, इससे सोशल डिस्टैनसिंग प्रभावित होने का ख़तरा है।

अमेठी की सांसद स्मृति ईरानी दिल्ली से हर समय अमेठी की खबर ले रही हैं। उन्होने पूरे लोकसभा क्षेत्र में मोदी किट वितरण, मास्क-सैनिटाइजर-गमछे का वितरण, मनरेगा के माध्यम से रोजगार सृजन, टेलीमेडिकल सुविधाओं के माध्यम से जनता के स्वास्थ्य की चिंता के साथ ही कोरोना महामारी से बचाव के लिए जिला प्रशासन के कार्यों की नियमित जानकारी लेते हुए आवश्यक सुझाव भी दे रही हैं।

रही बात कांग्रेस की तो वह देश की सत्ता से बाहर रहने औऱ अमेठी से हार से खिसियाहट में आये दिन इस तरह की बचकानी हरकत करती रहती है। देश स्तर पर राहुल गांधी स्वयं औऱ अमेठी में उनके लोगों की हरकतों को देश व  अमेठी की जनता अच्छी तरह समझती है। फिलहाल इस पोस्टर वार से एक बार फिर अमेठी का राजनीतिक तापमान बढ़ गया है।

Back to top button
E-Paper