मास्क नहीं तो माल नही : डीएम


उन्नाव(भास्कर)- दीवाली की खरीददारी करने वाले ग्राहकों और दुकानदारों को कोविड प्रोटोकॉल का पालन करना होगा। प्रशासन की पैनी नज़र दुकानदारों और आमआदमी पर भी रहेगी। बिना मास्क और बिना सोशल डिस्टेंसिंग के खरीददारी करना महंगा पड़ सकता है। डीएम ने ‘मास्क नहीं तो माल नहीं’ की तर्ज पर न सिर्फ दुकानदारों को बल्कि ग्राहकों के लिए भी सख्त निर्देश पारित करते हुए व्यापारियों से कहा कि वह स्वयं मास्क लगाएं और बिना मास्क लगाए जो खरीददारी करने आएं उन्हें कोई सामान न दें। इसका उल्लंघन मिलने पर दुकानदारों के खिलाफ कार्रवाई की जाएगी। बाजार और दुकानदारों पर निगाह रखने के लिए सभी एसडीएम ईओ और नगर मजिस्ट्रेट को सक्रिय रहने के निर्देश दिए हैं।

डीएम रवींद्र कुमार कुमार विकास भवन सभागार में धनतेरस और दीपावली त्योहारों को लेकर तैयारी बैठक की। उन्होंने कहा कि कोविड काल में त्योहार बहुत ही महत्वपूर्ण हैं । हमें संक्रमण से बचाव करते हुए त्योहार मनाना है। इसलिए जनपदवासी त्योहारों को कोविड-19 गाइडलाइन के पालन करते हुए मनाए। उन्होंने कहा कि जो भी मार्केट से सामान लेने जाएं वह मास्क अवश्य लगा कर जाएं। उन्होंने कहा मास्क नहीं तो माल नहीं की भावना से व्यापारी सामान बिक्री करें। प्रशासन ने प्रत्येक व्यापारी को दुकानों पर मास्क, सैनीटाइजर अवश्य रखने को कहा। साथ ही ग्राहक और दुकानदार को दो गज की दूरी के साथ ही सामान का आदान-प्रदान करने का निर्देश दिया है। पुलिस अधीक्षक आनंद कुलकर्णी, अपर पुलिस अधीक्षक विनोद कुमार, अपर जिलाधिकारी राकेश सिंह, मुख्य चिकित्सा अधिकारी डॉ. आशुतोष कुमार, समस्त उप जिलाधिकारी, समस्त क्षेत्राधिकारी, व्यापारी सहित संबंधित विभागों के अधिकारी एवं कर्मचारी उपस्थित रहे।

बाजार में मेडिकल टीम के साथ एंबुलेंस का रहेगा प्रबंध

– डीएम ने चिकित्सा विभाग को निर्देश दिए कि भीड़भाड़ वाले इलाकों में सैनिटाइजेशन होना चाहिए। त्योहारों को दृष्टिगत रखते हुए मेडिकल एंबुलेंस की व्यवस्था सुनिश्चित कराई जाए।

Back to top button
E-Paper