जिन्हे जन्मा, आज वहीं बने खून के प्यासे, बुजुर्ग माॅ बाप को किया लहूलुहान

मोहनलालगंज। (लखनऊ ) . निगोहां थाना क्षेत्र के राती गांव में एक जमीन के टुकड़े के लालच में एक किसान के तीन बेटों ने अपने बुजुर्ग मां बाप को जान से मारने का षडयंत्र रच डाला और हथियारों से लैस होकर अलग मकान में रह रहे पिता के दरवाजे पहुंचकर गाली गलौज करने लगे जिसका बुजुर्ग दम्पत्ति ने विरोध किया तो बेटों ने असलहों से फायर झोंक दिया। जिसपर घबराए दम्पत्ति जान बचाकर भागने लगे तो दबंगो ने माता पिता को दौड़ाकर घेर लिया और लाठी डंडो से पिटाई कर लहूलुहान कर दिया। शोरशराबा सुनकर जब ग्रामीण दौड़े तो दबंगो ने ग्रामीणों पर असलहे तान कर जान से मार देने की धमकी देने लगे लेकिन जब ग्रामीण पीछे नहीं हटे तो दबंगो ने फिर कभी मारने की बात कहकर वहां से भाग निकले।
Image result for लहूलुहान
निगोहां के रांती गांव के रहने वाले मंशाराम ने निगोहां थाने में लिखित तहरीर देते हुए बताया कि इनके चार बेटे राम नारायण, राज नारायण, राम मोहन व लक्ष्मी नारायण है। जिसमे तीन बेटे राज नारायण, राम मोहन व लक्ष्मी नारायण अपने परिवार के साथ अलग अलग मकानों में रहते है वहीं राम नारायण का भी अलग मकान बना हुआ है लेकिन वह इनके साथ ही रहता है। अलग रह रहे तीनो बेटों की नियत जमीन के टुकड़े पर खराब होने पर तीनो ने मां बाप को जान से मारकर जमीन अपने नाम कराने का षड्यंत्र रच डाला।
Related image
जिसके चलते गुरुवार की रात करीब 8 बजे राज नारायण देसी कट्टा राम मोहन अवैध पिस्टल व लक्ष्मी नारायण हाँथ में कुल्हाड़ी लेकर पिता के दरवाजे पहुंचे और गाली गलौज करने लगे जिसका माता पिता ने विरोध किया तो दबंगो ने उनपर फायर झोंक दिया लेकिन गोली कुछ दूरी से निकल गयी।
जिसके बाद बुजुर्ग दम्पत्ति जान बचाकर भागने का प्रयास करने लगे तो तीनों में उनको घेर लिया और लाठी डंडो व कुल्हाड़ी से पिटायी करने लगे। वहीं शोर शराबा सुनकर ग्रामीणों व पास ही गया  बेटा राम नारायण जब घर पहुंचा तो दबंगो ने ग्रामीणों पर असलहे तान दिये और कहा कि किसी ने बचाने की कोशिश की तो उसको जान से मार दिया जायेगा लेकिन ग्रामीण मौके से नही हटे जिसके बाद बुजुर्ग दम्पत्ति किसी तरह से जान बचाकर पुलिस कंट्रोल रूम पर घटना की जानकारी दी लेकिन कोई भी कार्यवाही न होने पर जान पर खतरा मंडराता देख बुजुर्ग दम्पत्ति निगोहां थाने पहुंचकर मामले की लिखित तहरीर दी और सुनवाई न होने पर बुजुर्ग दम्पति गांव छोड़कर अपने रिश्तेदार के घर मे पनाह ली। इस सम्बंध में एस आई रामफल मिश्रा ने बताया कि इस मामले की जांच हल्का दरोगा को दी गई है।उनके पिता की तबियत खराब इसलिए वो ठीक से नही देख पा रहे है।
प्रधान के कहने के बाद होगी कार्यवाही-
इस गंभीर मामले में एक बार फिर निगोहां पुलिस की लापरवाही सामने आई और शिकायत लेकर थाने पहुंचे बुजुर्ग दम्पत्ति से निगोहां पुलिस ने तहरीर लेकर प्रधान से बात करने के बाद ही किसी प्रकार की कार्यवाही किये जाने की बात कहकर दोनो को चलता कर दिया।
Back to top button
E-Paper