PM मोदी का वाराणसी दौरा आज, सिक्यॉरिटी अलर्ट

वाराणसी: प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की सुरक्षा को लेकर हमेशा से ही खुफिया एजेंसियां अलर्ट मोड पर रहती है. 14 और 15 जुलाई को उनके संसदीय क्षेत्र वाराणसी में होने वाले प्रधानमंत्री के दौरे के मद्देनजर सुरक्षा एजेंसियां किसी तरह की कोई चूक ना हो, इसकी पूरी तैयारी कर चुकी हैं. राजा तालाब स्थित सभा स्थल पर ड्रोन कैमरों से निगरानी की जाएगी, वहीं स्पेशल कमांडोज के अलावा एंटी माइंस टीम ने भी मैदान की सुरक्षा के लिए तगड़े इंतजाम किए हैं. राजा तालाब में होने वाले सभा स्थल पर तैयारियों को लेकर आलाधिकारियों के साथ बीजेपी संगठन के लोगों ने जायजा लिया.  पीएम इस सभा के दौरान करीब 937 करोड़ रूपए की योजनाओं का शिलान्यास और लोकार्पण कर वाराणसी की जनता को सौगात देंगे.

प्रधानमंत्री नरेन्‍द्र मोदी अपने संसदीय क्षेत्र के 13वें दौरे पर 14 जुलाई को वाराणसी पहुंच रहे हैं.

उनका यह दौरा दो दिवसीय है और एक बार फिर बारिश के मौसम में प्रधानमंत्री अपने संसदीय क्षेत्र सहित पूर्वी उत्तर प्रदेश को सौगात देने आ रहे हैं. प्रधानमंत्री के इस दौरे में बारिश का खलल किसी भी तरह न हो इसके लिए जिला प्रशासन ने मुकम्मल इंतजाम किए हैं. जिलाधिकारी सुरेन्द्र कुमार सिंह ने इस संबंध में मीडिया से बात की. बारिश के मौसम में एक बार फिर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी अपने संसदीय क्षेत्र में सौगातों की बारिश करने आ रहे हैं. इस बार उनका सभास्थल राजातालाब तहसील का कचनार गांव होगा.

इस सभा स्थल पर सभी कार्य जोर शोर से चल रहे हैं.

इस संबंध में जिलाधिकारी सुरेन्द्र कुमार सिंह ने बताया कि आगामी 14 जुलाई को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी राजातालाब के ग्राम कचनार के मैदान में एक जनसभा को संबोधित करेंगे और इसी मंच से 937 करोड़ की परियोजनाओं का लोकार्पण और शिलान्यास करेंगे. जिलाधिकारी ने कहा कि पंडाल को पूरी तरह से वाटरप्रूफ रखा गया है. साथ भी तेज बारिश अगर हो तो पानी की निकासी के लिये ड्रेनेज सिस्‍टम तैयार किया गया है.

जिलाधिकारी ने बताया कि सभा स्थल से कुछ ही दूरी पर बने पैरिशेबल कार्गो का लोकार्पण भी प्रधानमंत्री करेंगे. इस कार्गो का निर्माण कंटेनर कॉरपोरेशन ऑफ इंडिया ने करवाया है. इसमें किसान को अपने उत्पादों को सुरक्षित रखने की सुविधा दी जाएगी. इसके अलावा ह्रदय योजना, अमृत योजना, गेल इंडिया द्वारा संचालित ऊर्जा गंगा योजना, कैंसर हॉस्पीटल, घाटों का सुंदरीकरण और पंचकोसी मार्ग के सुंदरीकरण सहित 33 योजनाएं शामिल हैं.

इसके अलावा प्रधानमंत्री अपने वाराणसी दौरे के दौरान पंडित दीनदयाल उपाध्‍याय हस्‍तकला संकुल, बड़ा लालपुर में बनारस के प्रबुद्धजनों से संवाद भी करेंगे. डीएम के अनुसार प्रधानमंत्री इसी जनसभा स्थल से वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के जरिए वाराणसी से बलिया तक जाने वाली मेमो ट्रेन को भी फ्लैग ऑफ करेंगे. हमने इस आयोजन में सुरक्षा के सभी इंतजाम किए हैं. शासन की तरफ से हमें अतिरिक्‍त पुलिस बल मुहैया करा दिया गया है.

एसएसपी के मुताबिक, प्रधानमंत्री के प्रोटोकॉल को फॉलो करते हुए जो भी सुरक्षा के इंतजाम जरूरी होते हैं वे सारे तो किए ही जा रहे हैं. इसके अलावा अतिरिक्त सुरक्षा व्यवस्था के लिए प्रदेश के अलग-अलग जिलों से भारी संख्या में फौज की मौजूदगी 2 दिनों तक वाराणसी में बनी रहेगी. इसके लिए सभा स्थल से लेकर सड़कों तक पर भारी फोर्स की तैनाती की जा रही है. इतना ही नहीं भारी संख्या में आएपीएस अधिकारियों की तैनाती भी प्रधानमंत्री के विजिट के दौरान रहेगी.

अधिकारियों की माने तो प्रधानमंत्री की सुरक्षा में लगभग 10 हजार से ज्यादा जवानों की तैनाती की जा रही है. इसमें एसपी, एडिशनल एसपी, दरोगा के अलावा कांस्टेबल की भारी संख्या में तैनाती की जा रही है. कार्यक्रम स्थल पर महिला पुलिस के अतिरिक्त सादी वर्दी में भी भारी संख्या में पुलिस बल की मौजूदगी होगी. इन तैयारियों को ध्यान में रखते हुए पुलिस प्रशासन की एक ज्वाइंट रिहर्सल भी किया गया.

Back to top button
E-Paper