भूमाफिया के विरुद्ध सांसद के पत्र व जिलाधिकारी के आदेश पर कार्यवाही लंबित

  • जिले के सांसद डॉ0 स्वामी साक्षी जी महाराज ने 07/12/2019 को जिलाधिकारी को भूमाफिया के विरुद्ध की थी शिकायत।
  • सपा संरक्षित भूमाफिया बीरबल गुजराती ने तहसील प्रशासन को भ्रष्टतंत्र में शामिल कर सांसद साक्षी जी महाराज तथा योगी के भूमाफियों पर शिकंजे के सपने को खुली चुनौती।
  • उप जिलाधिकारी सदर ने 10/12/2019 को क्षेत्राधिकारी नगर को अवैध कब्ज़े पर निर्माण रोकने का दिया था आदेश। 
  • जुलाई में किशोरीलाल की शिकायत पर वर्तमान जिलाधिकारी ने तत्काल कार्यवाही के दिये थे आदेश।
  • सांसद के पत्र तथा जिलाधिकारी के आदेश के बाद भी न्याय को तरस रहे किसान।
  • जिले का कुख्यात हिस्ट्रीशीटर भूमाफिया बीरबल गुजराती को बचाने में कर रहा षड्यंत्र।
  • सपा नेता स्व0 दीपक कुमार के परिवार का निकटतम है भूमाफिया।

उन्नाव। मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के भूमाफियाओं पर कार्यवाही के प्राथमिक सपने को सफल बनाने हेतु 2014 में भाजपा सरकार बनते ही प्राथमिकता पर जिलेवार भूमाफियाओं को प्रशासन द्वारा चिन्हित कराकर मुकदमे दर्ज किए गए, आभो तक उत्तर प्रदेश में तमाम बड़े व छोटे भूमाफियां पर कार्यवाही भी हुई, माफिया डॉन व नेता मुख्तार अंसारी से लेकर अतीक अहमद तक के अवैध कब्ज़ों/निर्माण पर सरकारी बुलडोज़र गरजा कर योगी सरकार ने भूमाफियाओं पर कार्यवाही कर खुला संदेश दिया किन्तु उन्नाव में 2 दर्जन भूमाफियाओं पर प्रशासन द्वारा भाजपा सरकार बनते ही मुकदमा तो दर्ज हुए लेकिन कार्यवाही आज तक प्रतीक्षारत है।योगी सरकार की मंशा को अमली जामा पहनाते हुए जिले के सांसद डॉ0 स्वामी साक्षी जी महाराज ने गंगाघाट निवासी पीड़ित किशोरीलाल की शिकायत को अपने लेटर पैड पर 07/12/2019 को जिलाधिकारी को कार्यवाही के लिए पत्र सं0 सांलोस/वी.आई.पी/पत्रांक 2029 प्रेषित किया।

तत्कालीन उपजिलाधिकारी सदर ने औपचारिकता स्वरूप तत्कालीन क्षेत्राधिकारी नगर को अवैध निर्माण तथा कब्ज़े को रुकवाने का आदेश तो दिया किन्तु भूमाफिया बीरबल गुजराती ने सांसद के पत्र तथा उन्नाव प्रशासन को चुनौती देते हुए अवैध कब्जा कर सरकारी भूमि पर निर्माण करा डाला।सांसद द्वारा जिलाधिकारी को प्रेषित पत्र में  किशोरीलाल पुत्र शिवलाल पत्नी पुष्पा की  खैराह ऐहतमाली स्थित भूमि संख्या 352/353/356/155ग 1/2 पर भूमाफिया बीरबल गुजराती पुत्र गंगाराम निवासी चम्पा पुरवा द्वारा सड़क बनाकर जबरन कब्ज़े को रुकवाने तथा कार्यवाही के लिए पत्र लिखा था जिसमे 10/12/2019 को तत्कालीन उपजिलाधिकारी सदर ने क्षेत्राधिकारी नगर को तत्काल अवैध कब्जा तथा निर्माण को रुकवाने का आदेश भी दिया था। किंतु सपा संरक्षण में उपजा भूमाफिया बीरबल गुजराती ने तहसील प्रशासन को भ्रष्टतंत्र में शामिल कर सांसद साक्षी जी महाराज तथा योगी के भूमाफियों पर शिकंजे के वचन को चुनौती देते हुए अवैध कब्जा कर लिया। सांसद के जिलाधिकारी को भूमाफिया पर कार्यवाही के लिए प्रेषित पत्र पर आज तक कार्यवाही प्रतीक्षारत है।

उन्नाव में ईमानदार क्षवि के जिलाधिकारी रविन्द्र कुमार ने 4 अगस्त 2020 को गंगाघाट कोतवाली क्षेत्र से शिकायतकर्ता किशोरीलाल की शिकायत पर गंगाघाट में सक्रिय भूमाफिया बीरबल गुजराती द्वारा सरकारी तथा निजी स्वामित्व की भूमि कब्ज़ा तथा क्रय किये जाने की शिकायत पर तत्काल कार्यवाही करते हुए मामले की जांच कराकर कार्यवाही का उपजिलाधिकारी सदर तथा क्षेत्राधिकारी नगर से करने का आदेश संख्या-1108/जिला0पत्रा0/2020 पारित किया गंगाघाट थाना क्षेत्र में खैराह ऐहतमाली की जमीन संख्या-359, 374घ, 375ख बंजर एवं 358ग, 367च, 368ग रेती कब्ज़ा 108क नेटवा 109 पुरानी परती पर अवैध निर्माण की जांच, बीरबल गुजराती की संपत्ति की जांच व राजस्व के दर्जनों मुकदमे में कार्यवाही न किये जाने विषयक के साथ जांच कर आख्या मांगी थी।

किन्तु आदेश के 3 सप्ताह बीत जाने पर नायब तहसीलदार सदर, कानूनगो, लेखपाल ने उक्त भूमि पर भूमाफिया द्वारा अवैध कब्जा/निर्माण/बिक्री की मओके पर नापजोख तो की है किंतु विश्वस्त सूत्रों के अनुसार उक्त टीम द्वारा निरक्षण मपजोख की रिपोर्ट प्रशासनिक तौर पर दाखिल नही की गई है। उक्त रिपोर्ट में भूमाफिया बीरबल गुजराती को बचाने के उद्देश्य से नगर का चर्चित हिस्ट्रीशीटर बिचौलिया भ्रष्टतंत्र के माध्यम से पूर्व की तरह सब निपटने में लगा है। तहसील प्रशासन से प्राप्त जानकारी के अनुसार नायब तहसीलदार कानूनगो लेखपाल की रिपोर्ट को दाखिल न करके उपजिलाधिकारी सदर दोबारा मम्मले की जांच करेंगे।
विश्वस्त सूत्रों की माने तो भूमाफियाओं का सहयोगी कुख्यात हिस्ट्रीशीटर खुद को पत्रकार बताकर सदर तहसील में सेटिंग गेटिंग के माध्यम से भूमाफियां बीरबल गुजराती पर कार्यवाही को टालने तथा दबाने में प्रयासरत है।  

हिस्ट्रीशीटर कर रहा भूमाफियां बीरबल का बचावउन्नाव। 2 दर्जन से अधिक संगीन धाराओं के मुकदमो का आरोपी रहा चर्चित हिस्ट्रीशीटर जोड़ जुगाड़ के माध्यम से गंगाघाट के भूमाफिया बीरबल गुजराती को कार्यवाही से बचाने के लिए तहसील प्रशासन में खेल करने में लगा है, कुछ दिन पूर्व जिलाधिकारी आवास के सामने स्थित विगत सेल्स टैक्स कार्यालय स्थित भूमि पर भूस्वामी अयाज़ सिद्दीक़ी से राजेश बाजपेई नाम का कथित हिस्ट्रीशीटर कीमती भूमि पर 15 लाख रुपये तथा भूखंड के लिए उगाही का दबाव बना रहा था, उक्त हिस्ट्रीशीटर ने अपने षड्यंत्र में सदर तहसील प्रशासन के कुछ कर्मियों की मिलीभगत से भूभाग की बाउंड्री वाल को भी गायब करा दिया था। पत्रकारों से वीडियो के माध्यम से भूस्वामी के पुत्र ने उक्त हिस्ट्रीशीटर पर गंभीर आरोप लगाए थे। यही हिस्ट्रीशीटर अपने नापाक मंसूबो को पूर्ण स्वरूप देने हेतु इन दिनों अपने करीबी भूमाफिया बीरबल गुजराती को योगी तथा सांसद साक्षी महाराज के भूमाफियाओं पर कार्यवाही की मंशा को तहसील प्रशासन में सेटिंग गेटिंग कर खुली चुनौती दे रहा है।

Back to top button
E-Paper