पुलिसकर्मियों को धमकाने के मामले में वीडियो वायरल भाजपा पार्षद के खिलाफ रिपोर्ट दर्ज

भास्कर समाचार सेवा
साहिबाबाद।थाना साहिबाबाद में भारतीय जनता पार्टी के वार्ड 10 से पार्षद यशपाल पहलवान और उनके एक साथी गौरव श्रीवास्तव के खिलाफ पुलिस ने रिपोर्ट दर्ज की है। आरोप है कि भाजपा पार्षद ने सरेआम पुलिसकर्मियों को उनको सरकारी काम करने से रोका तथा पुलिस के खिलाफ जनता को भड़काया और पुलिसकर्मियों को बुरा अंजाम भुगतने की धमकी दी।
एसीपी पूनम मिश्रा ने बताया कि सोशल मीडिया पर एक वीडियो वायरल हो रहा है जिसमें कुछ लोग पुलिसकर्मियों को धमका रहे हैं और उनको सरकारी काम करने से रोक रहे हैं। सोमवार को डीएलएफ कॉलोनी में पुलिसकर्मी यातायात जाम करने वाले कुछ ठेली पटरी वालों के चालान काटने की कार्रवाई कर रहे थे। इसका कुछ लोगों द्वारा विरोध किया गया तथा पुलिस के खिलाफ लोगों को भड़काया। वहां मौजूद पुलिसकर्मियों को धमकी दी थी।इस मामले में एक पुलिसकर्मी द्वारा थाना साहिबाबाद पर तहरीर दी गई है और उस पर मुकदमा दर्ज करते हुए विधिक कार्रवाई की जा रही है। एसीपी ने अपने बयान में बाकी तो सारी बातें कहीं लेकिन आरोपियों के नाम नहीं बताए।
वीडियो में वार्ड 10 से भाजपा से पार्षद हैं यशपाल पहलवान अपने कुछ साथियों के साथ बाजार में एक चौराहे सरदार भगत सिंह चौक पर खड़े हैं और वह पुलिसकर्मियों को धमकाते हुए नजर आ रहे हैं ।वे पुलिस पर शरेआम आरोप लगा रहे हैं कि पुलिस अवैध वसूली कर रही है और जो पैसा नहीं दे रहे हैं उनके चालान काटे जा रहे हैं। वे पुलिस को सख्त लहजे में चेतावनी दे है रहे हैं और कह रहे हैं कि पूरी चौकी को सबक सिखाएंगे। पुलिसकर्मी रास्ता जाम करने वालों के चालान काट रहे थे तभी इलाके के भाजपा पार्षद मौके पर पहुंचते हैं और पुलिस को अपने अंदाज में धनकाते हैं । वे यहीं नहीं रुके मौके पर पहुंचे पत्रकार को भी उन्होंने धमकाया और कहते नजर आये कि तू पुलिस वालों के साथ घूमता है पुलिस के खिलाफ अखबार में खबर नहीं लिखता है
थाना साहिबाबाद पुलिस ने आईपीसी की धारा 147 ,186, 189, 353 ,504 तथा 506 के अंतर्गत भाजप पार्षद यशपाल पहलवान और उनके साथी गौरव श्रीवास्तव आदि के खिलाफ रिपोर्ट दर्ज की है।इस मामले में यह भी संज्ञान में आया है कि बाजारों में सड़क जाम करने के मामले में केवल थैली पटरी वाले ही दोषी नहीं है इसके पीछे एक सोची-समझी पैसा कमाने की चाहत है जिसमें दुकानदार अपने दुकान के सामने खेली पटरी लगाने वालों से रोजाना के हिसाब से मोटा पैसा वसूलते हैं और उन्हें पूरा संरक्षण दे रखा हैपरेशानी आती है उन लोगों को जो इन रास्तों से गुजरते है। पार्षद यशपाल पहलवान का कहना है कि ठेली पटरी वालों ने चालान के नाम पर पुलिस अवैध उगाई कर रही है जिसकी शिकायत दुकानदार मेरे ऑफिस पर मुझसे शिकायत करने आए थे मैं मौके पर पहुंचा तो पुलिसकर्मियों से कहासुनी हो गई

Back to top button