एसडीएम व सीओ पटाखा कारखानों का निरीक्षण कर बिक्री की जगह चिह्नित की

भास्कर न्यूज़ उन्नाव
उन्नाव । दीवाली को मद्देनजर रखते हुए जिला प्रशासन ने अपना रवैया तल्ख कर लिया है। आतिशबाज़ी बिक्री पर अधिकारियों की नज़र पैनी है। इसके तहत गुरुवार को एसडीएम व सीओ ने तहसील क्षेत्र के नौ पटाखा कारखानों का निरीक्षण कर पांच जगहों पर आतिशबाजी बिक्री के लिए जगह चिह्नित किया।

गुरुवार को एसडीएम राजेश चौरसिया व सीओ रमेशचंद्र ने नगर के दलीगढ़ी, ग्राम बैगाव, पासाखेड़ा, बेहटा, नाथीखेड़ा व मौरावां थाने के ग्राम पारा, प्रसाद खेडा, कटरा चेतराय में लाइसेंसी पटाखा कारखानों पर छापेमारी कर जांच की। इसमें सभी लाइसेंस वैध मिले। जबकि, दुकानों पर फायर यंत्र, बालू ,पानी, स्टाक आदि दुरुस्त मिला। एसडीएम राजेश चौरसिया व सीओ रमेशचंद्र ने दुकानदारों को नियमों का पालन करने के कड़े निर्देश दिए। वहीं, दीपावली पर आतिशबाजी की दुकानें निश्चित जगह पर लगने के लिए स्थलों का चयन किया गया। तहसील क्षेत्र में पुरवा, मौरावां, कालूखेड़ा, असोहा व कांथा में आतिशबाजी की दुकानें लगेंगी। एसडीएम राजेश चौरसिया ने बताया कि सभी जगहों पर फायर ब्रिगेड, एम्बुलेंस आदि पहुंच सकती है। दुकानदारों को दुकानों के बीच दूरी बनाने व ज्वलनशील पदार्थ न रखने, मास्क का प्रयोग सहित सुरक्षा बिदुओं के मानक बताए गए है। पूरे मानक पूर्ण करने वाले दुकानदार ही पटाखा बिक्री कर सकेंगे।बीघापुर में भी दुकानों का किया गया निरीक्षण : थाना क्षेत्र के आतिशबाजी की दुकानों का गुरुवार को एसडीएम दया शंकर पाठक व सीओ कृपा शंकर कनौजिया ने निरीक्षण किया। निरीक्षण में आतिशबाजी लाइसेंस के अनुसार क्षमता के गोले पटाखे बने मिले। बीघापुर, कठार, कैलाव, लालगंज स्थित दुकान में सुरक्षा के इंतजामों को पुख्ता पाया गया। एसडीएम ने आतिशबाजों को आगाह किया कि वह क्षमता से अधिक सामग्री न रखें और सुरक्षा के मानकों का पालन करते हुए उनका विक्रय करें। इसका उल्लंघन पाए जाने पर सख्त कार्रवाई की जाएगी। निरीक्षण में प्रभारी निरीक्षक जावेद अख्तर भी मौजूद रहे।  
संवाददाता- निशांत बाजपेई, विश्वास सिंह

Back to top button
E-Paper