केबीसी में 25 लाख रुपए की लॉटरी जीतने की झांसा देकर 22 लाख की ठगी करने वाला ऐसे हुआ गिरफ्तार

जयपुर । स्पेशल ऑपरेशन ग्रुप (एसओजी) ने कार्रवाई करते हुए एक महिला को 2 साल पहले केबीसी में 25 लाख रुपए की लॉटरी जीतने की झांसा देकर अलग-अलग चार्जेज के नाम पर 22 लाख की ठगी करने के मुख्य आरोपी तापस कुमार मंडल निवासी थाना बलियापुर जिला धनबाद झारखंड को गिरफ्तार किया गया है।

अतिरिक्त महानिदेशक पुलिस एटीएस और एसओजी अशोक राठौड़ ने बताया कि शातिर ठग तापस कुमार मंडल को कोर्ट में पेश कर रिमांड पर लिया गया है। आरोपी के पास से विभिन्न बैंक खातों की पासबुक, चेक बुक, एटीएम कार्ड एवं मोबाइल बरामद किए गए हैं। मोबाइल में बड़ी संख्या में कई बैंक खातों से लिंक यूपीआई आईडी मिली है। आरोपी कंप्यूटर साइंस में बीटेक है, जिसने अपनी साइबर गैंग बना रखी है।

जयपुर निवासी पीड़ित महिला अनीता जांगिड़ को भी आरोपी ने लॉटरी जीतने के नाम पर फर्जी कूट रचित दस्तावेज भेजकर केबीसी के नाम पर ठगी की थी। वारदात के खुलासे के लिए एसओजी गौरव यादव के निर्देशन व पुलिस निरीक्षक सज्जन कवर के नेतृत्व में एक टीम गठित की गई। टीम द्वारा पूर्व में एक लाभान्वित खाताधारक सहित तीन व्यक्तियों को गिरफ्तार किया गया था। लेकिन केबीसी के नाम से कूटरचित और फर्जी लेटर-पंपलेट बनाने और कॉल-मैसेज करने वाला आरोपी तापस मंडल पुलिस गिरफ्त से दूर रहा,जिसे अब एसओजी की टीम ने धनबाद से गिरफ्तार कर लिया।

Back to top button