लड़की से हैवानियत के बाद, लड़के ने की आत्महत्या, जानिए क्या थी वजह

नई दिल्ली: छत्तीसगढ़ के कोरबा में 19 साल के लड़के की आत्महत्या का मामला सुलझ गया है। पुलिस ने बताया कि बुधवार देर रात एक लड़की कोरबा पुलिस स्टेशन पहुंची और उसने बताया कि आखिर लड़के ने आत्महत्या क्यों की थी। लगभग दो हफ्ते पहले लड़के ने आत्महत्या कर ली थी। जिसके बाद यह पुलिस और परिवार दोनों के लिए एक रहस्य बना हुआ था।

पुलिस के मुताबिक लड़की ने बताया कि लड़के ने इसलिए आत्महत्या की क्योंकि लड़की के साथ गैंगरेप हुआ था और उसे गैंगरेप देखने के लिए मजबूर किया गया था। पीड़ित लड़की नाबालिग है। उसके बयान के बाद पुलिस ने दोनों संदिग्धों ईश्वर दास और खेम कनवर को गिरफ्तार कर लिया है।

पुसिस ने बताया कि 1 सितंबर की शाम वह पास के मार्केट से अपने घर की ओर जा रही थी। उसी वक्त 19 वर्षीय लड़का उससे मिला, जो दूसरी तरफ जा रहा था। चूंकि सड़क सुनसान थी, इसलिए लड़के ने उसे घर तक छोड़ने की बात कही।

पुलिस के मुताबिक दोनों आरोपी दास और कनवर उसी रास्ते से बाइक पर जा रहे थे। जब उन्होंने लड़के और लड़की को साथ जाते देखा, तो उनका पीछा किया। दोनों ने उन्हें गाली दी और पीटना शुरू कर दिया। आरोपियों ने पीड़ितों के मोबाइल फोन भी छीन लिए।

इस घटना से लड़की डर गई और वह गांव की तरफ मदद के लिए भागी। लेकिन दोनों आरोपियों ने उसे दौड़ाकर पकड़ लिया और वहां लाए जहां लड़के की पिटाई की जा रही थी। पिटाई के बाद लहूलुहान हुआ लड़का बेहोशी के हालत में सड़क पर पड़ा हुआ था। जबकि दास और कनवर के कथित रूप से बारी-बारी से लड़की के साथ रेप किया। वहीं 19 वर्षीय लड़के को ये सब देखने के लिए मजबूर किया गया। जिसके बाद उसने आत्महत्या का कदम उठाया।

Back to top button
E-Paper