इलाहाबाद में लगे पोस्टर लिखा- ‘INDIRA  का खून, PRIYANKA का कमिंग सून’…. 

 इलाहाबाद।  कांग्रेस की पूर्व अध्यक्ष श्रीमती सोनिया गांधी के संसदीय क्षेत्र रायबरेली से प्रियंका गांधी वाड्रा के लोकसभा चुनाव लडने की सुगबुगाहट पर सोशल मीडिया पर पोस्टर वायरल हुआ है।
इलाहाबाद कांग्रेस कार्यकताओं के बीच एक पोस्टर वायरल हुआ है जिस पर लिखा है “इन्दिरा का खून प्रियंका इज कमिंग सून।” कांग्रेस कार्यकर्ताओं ने प्रियंका गांधी को सक्रिय राजनीति में लाने के लिए सोशल मीडिया पर पोस्टर वायरल किया है।

पोस्टर में दाहिनी तरफ सबसे ऊपर कांग्रेस के वरिष्ठ नेता प्रमोद तिवारी और पार्टी अध्यक्ष राहुल गांधी की तस्वीर छपी है। बायी तरफ श्रीमती सोनिया गांधी और उनके पीछे रेणुका चौधरी की तस्वीर है। श्री गांधी और सोनिया गांधी की तस्वीर के बीच में पूर्व प्रधानमंत्री श्रीमती इंदिरा गांधी की बडे आकार वाली तस्वीर है।
श्रीमती इंदिरा गांधी की तस्वीर के ठीक नीचे “इंदिरा का खून प्रियंका इज कमिंग सून” लिखा है। तस्वीर में सबसे नीचे दाहिनी तरह जिला कांग्रेस महासचिव हसीब अहमद की तस्वीर है तो बायीं तरफ फूल-मालाओं से लदी मुस्कराते प्रियंका गांधी हाथ जोडे मुद्रा में दिखलायी पड़ रही है।

इलाहाबाद कांग्रेस कार्यकताआें ने इससे पहले कई बार श्रीमती सोनिया गांधी से प्रियंका गांधी को सक्रिय राजनीति में उतारने की मांग कर चुके हैं।

महासचिव हसीब अहमद ने बताया 

केवल प्रियंका नाम से सत्तारूढ भाजपा के खेमे में भूचाल आ गया है। उन्होंने कहा कि अभी तो यह सिर्फ प्रियंका के नाम का ट्रेलर है पिक्चर तो अभी बाकी है। ट्रेलर का यह असर है तो पिक्चर क्या गुल खिलायेगी यह भाजपा को 2019 के लोकसभा चुनाव में पता चलेगा।

उन्होने कहा 

जनता प्रियंका गांधी में श्रीमती इंदिरा गांधी की अक्स खोजती है। उनकी बातचीत करने की शैली हो या पहनावा सब कुछ श्रीमती गांधी से मेल खाता है। उन्होंने कहा कि श्री राहुल गांधी के साथ उनकी बहिन प्रियंका गांधी लोकसभा चुनाव में अपनी भागीदारी और उम्मीदवारी दर्शाती हैं तो उत्तर प्रदेश की लोकसभा की 80 सीट पर गठबंधन का परचम लहरायेगा। श्री गांधी देश के प्रधानमंत्री होंगे और जनता भाजपा काे धूल चटायेगी।

उन्होंने कहा कि जनता भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) से ऊब चुकी है। जनता ने बड़े विश्वास के साथ भाजपा को देश और प्रदेश की बागडोर सौंपी थी लेकिन उन्होने लोगों की भावनाओं से खिलवाड़ किया है। विकास, भ्रष्टाचार, कानून व्यवस्था, युवाओं से किये गये नौकरी के वादे हो या गरीब किसानों के ऋणमुक्त की बातें सब जुमले साबित हुए। उन्होंने कहा कि भाजपा ने जनता के साथ विश्वासघात किया है और जनता उस विश्वासघात का बदला 2019 के लोकसभा चुनाव में लेगी।

Back to top button
E-Paper