प्रेग्नेंट महिला के पेट पर मारी लात, गर्भ में पल रहे बच्चे की हुई मौत…

इंदौर  :  इंसानियत को शर्मसार करने वाली इंदौर की एक घटना सामने आई है। कार में स्क्रेच आने पर एक व्यक्ति ने पीड़िता और उसके पति के साथ मारपीट की है। इतना ही नहीं गर्भवती महिला के पेट में लात भी मारी जिससे उसके बच्चे की गर्भ में ही मौत हो गई है।

पीड़िता के मुताबिक उसका पति अजय गौतम 5 साल से इंदौर के वृंदावन धाम अपार्टमेंट के बिल्डिंग में चौकीदार है। इसी बिल्डिंग के रहने वाले मुकेश वाधवानी की कार में हाल ही में उससे स्कैच लगा था। जिससे मुकेश बौखला गया था। उसने उसके पति को रात में 10 बजे ये कहकर घर आने को कहा कि उसके घर बिजली नहीं आ रही है।

हांलाकि  पावर चैक में सब ठीक था लेकिन फिर भी बुलाने पर जब वो वहां गया तो मुकेश ने स्क्रैच की बात को लेकर उसके साथ विवाद शुरू कर दिया। जिसके बाद बड़ी ही मुश्किलों से आस पास के लोगों ने मामले को शांत करवाया। लेकिन रविवार की ही रात बिजनेसमैन मुकेश व दीपक चावला अपने भाई अक्कू और बंटी मोटवानी के साथ रात करीब पौने दो बजे के दरमियान घर में घुसे और पति को बिस्तर पर ही मारना शुरू कर दिया। मेरी नींद खुली तो मुझे भी धक्का  दे दिया।

ऐसे में जब पति को बेरहमी से पीटता देख पीड़िता ने बचाने की कोशिश की तो उसके पेट में मुकेश ने एक लात मारी फिर दीपक ने पति को लात मारी तो आगे होने से मुझे उसकी भी लात लगी। ऐसे में अपनी जान बचाने के लिए पीड़िता पति बाहर भागा तो सभी ने उसको बाहर दौड़ाकर भी पीटा। दरअसल महिला गर्भवती थी ऐसे में इस विवाद से उसका ब्लड प्रेशर बढ़ गया और फूल टाइम होने से मेरी तबीयत बिगड़ गई थी।

बाद में डॉक्टरों ने हमारे बच्चे के जीवित न होने की जानकारी देकर हमारी खुशियां ही काफूर कर दी। घटना के वक्त मेरी साढ़े चार साल की बेटी लक्ष्मी भी मौजूद थी। पेट नें लात लगने के कारण को भी बच्चे के गर्भ में ही हो गई है। घटना के बाद पीड़िता ने अपने पति के साथ पुलिस स्टेशन में शिकायत दर्ज करवाई है जिसके बाद  पुलिस ने मामले में आईपीसी की धारा 316 और एससी-एसटी एक्ट की धाराएं बढ़ाई हैं और आरोपियों को हिरासत में लिया गया है।

Back to top button
E-Paper