यूपी : जिसे 12 सालो तक पला, पोसा आज उसी बच्चे का खेत में मिला का शव, परिवार में मचा कोहराम

गोपाल त्रिपाठी 
गोरखपुर । सिकरीगंज क्षेत्र के बारीगांव से पांच दिन पहले अपहृत बालक आदर्श का शव गांव के उत्तर की तरफ खेत में तब मिला, जब कुत्ते शव को नोंच रहे थे । बालक के अपरहरण का आरोप उसके ही दो दोस्तों पर लगा है । जिनकी तलाश में पुलिस जुटी हुई है । अपहृत बालक का शव मिलने की सूचना मिलते ही पुलिस विभाग सकते में आ गई और स्थानीय थाने की पुलिस से लेकर सीओ, एसपी ग्रामीण, एसपी क्राइम व एसएसपी शलभ माथुर ने घटना स्थल का निरीक्षण किया तथा मातहतों से घटना की चर्चा के बाद कड़ी कार्रवाई का निर्देश दिया ।
मिली जानकारी के अनुसार सिकरीगंज थाना क्षेत्र के बारीगांव निवासी जय प्रकाश सिंह का 12 वर्षीय पुत्र आदर्श पांच दिन पूर्व अचानक गायब हो गया । परिजनों के काफी ढूढने के बाद भी बालक नही मिला । तो उसके पिता ने संदेह के आधार पर बालक के दो दोस्तों पर अपहरण का आरोप लगाया था। जो कुछ माह से ही अभी किराये का कमरा लेकर रहते थे
। पिता की शिकायत पर पुलिस ने आरोपियों के कमरे पर दबिश दी, जहां आरोपी तो नही मिले लेकिन उनके एक बैग से खून का छींटा लगा अपहृत बालक का कपड़ा मिला था । जिसके बाद पुलिस विभाग में ह़कम्प मच गया । मौके पर अधिकारियों के साथ ही फोरेंसिक टीम ने निरीक्षण किया साथ ही डाग स्क्वायड को भी कपड़े की गंध के साथ सुराग के लिए लगाया गया पर उस दिन बालक का कोई सुराग नही लग सका ।
फाइल फोटो 
रविवार की दोपहर लगभग ढाई बजे गांव के उत्तर तरफ बुढवरा पुलिया के समीप प्रेम सिंह अपने धान के खेत में पानी चला रहे थे, इसी दौरान दूसरे खेत में लगातार कुत्तो के भौंक रहे थे और बार-बार अनेकों कुत्ते आ-जा रहे थे । कुछ अजीब लगने के बाद नजदीक जाकर देखा तो कुत्ते एक शव को नोचकर खा रहे थे । वे लगभग आधा शव खा भी चुके थे । उन्होनें तत्तकाल इसकी सूचना पुलिस को दे दिया । तब तक यह सूचना गांव में जंगल की आग की तरह फैल गई और देखते ही देखते मौके पर भारी भीड़ जुट गई। पिता ने शव देखते ही उसकी पहचान कर ली । तब तक स्थानीय पुलिस भी मौके पर पहुंच गई ।
अपहृत बालक का शव मिलने की सूचना मिलते ही विभाग सकते में आ गया । कुछ ही देर में घटना स्थल पर कई थानों की पुलिस के जुटने के साथ एसएसपी शलभ माथुर, एसपी क्राइम, एसपी साउथ व सीओ ने घटना स्थल का बारिकी से निरीक्षण किया । एसएसपी श्री माथुर ने मातहतों से घटना के बावत विस्तृत जानकारी लेने के साथ आरोपियों के तत्तकाल गिरफ्तारी व दोषियों के खिलाफ कठोर कार्रवाई का निर्देश दिया। लेकिन परिजनों के सवालों के जवाब देने में पुलिस विभाग के लोग असहज महसूस करने लगे । खजनी पुलिस ने शव को कब्जें में लेकर पोस्टमार्टम के लिए भेज दी और मामले की छानबीन के साथ आरोपियों की तलाश में सरगर्मी से जुट गई ।
बच्चे का नेकर पहचानते ही दहाड़ मार कर रोने लगा पिता 
खेत में कुत्तो ने अपहृत बालक के शव के अधिकांश हिस्से को बुरी तरह नोंच डाला था। जिससे शव का रूप विभत्स हो गया था और आसानी से पहचानना मुश्किल लग रहा था । खेत में शव मिलने की सूचना पर बदहलाशी की हालत में पहुंचे पिता ने शव के पहने हुए नेकर को देखा शव की पहचान करते हुए वहीं दहाण मार कर रोने लगा । मौके पर जुटी भीड़ भी हृदय विदारक घटना से मर्माहत हो गई ।
पिता ने दोस्तों पर अपहरण का जताया था संदेह 
मृतक के पिता अपने बेटे के दो दोस्तों पर ही अपहरण का संदेह जताया था । जिसकी पांच दिन बाद खेत में लाश मिली । आरोपी दोस्त गांव में अपने रिश्तेदारी में एक माह से ठहरे थे । घटना के बाद से ही दोनो दोस्त फरार है । बीते गुरूवार को पुलिस ने इनके बैग से ही मृत आदर्श का खून के छींटे लगा सर्ट बरामद हुआ था ।
पहले ही दिन घटना स्थल तक  बार-बार पहुंच भटक जा रही थी डाग स्क्वायड की लीली 
बालक के गायब होने के बाद पिता ने दोस्तों पर अपहरण का आरोप लगाया था । पुलिसिया जांच में बीते गुरूवार को ही आरोपियों के बैग से खून के छींटे लगे अपहृत बालक के कपड़े मिले थे । जिसके बाद  डाॅग स्क्वाॅयड को बुलाया गया था । डाॅग स्क्वाॅयड की लीली ने कपड़े की गंध लेने के बाद कई बार बुढहरा पुलिया तक पहुंच रही थी, लेकिन फिर गंध नही मिलने के कारण भटक जा रही थी ।
पांच दिन बाद भी पुलिस की पकड़ से दूर आरोपी
बालक के अपहरण की घटना व खून के छींटे पड़े कपड़े मिलने के बाद वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक शलभ माथुर ने आरोपियों को गिरफ्तार कर घटना के खुलासे के लिए टीम गठित किया था । लेकिन पांच दिन बाद भी पुलिस की पकड़ से दोनो आरोपी दूर है और पुलिस के हाथ खाली ही है ।
Back to top button
E-Paper