रेलवे की एसी स्पेशल रेलगाड़ियों के शुरुआती सवा 3 घंटे में बुक हुए 54 हजार से अधिक टिकट

नई दिल्ली । कोरोना और देशव्यापी लॉकडाउन के बीच मंगलवार से रेलवे की आंशिक यात्री सेवाएं 50 दिन बाद एक बार फिर से बहाल होने जा रही हैं। रेलवे शुरुआत में 15 जोड़ी वातानुकूलित ट्रेनों अर्थात कुल 30 रेलगाड़ियों को चलाएगा। इसके लिए सोमवार से आईआरसीटीसी की वेबसाइट पर बुकिंग शुरू हो गई। शुरुआत के महज सवा तीन घण्टों में 54 हजार से अधिक टिकट बुक हो गए।


रेल मंत्रालय में सूचना एवं प्रचार विभाग के कार्यकारी निदेशक राजेश दत्त बाजपेई ने सोमवार को बताया कि बुकिंग शुरू होने के महज 10 मिनट से भी कम समय में हावड़ा-नई दिल्ली एक्सप्रेस ट्रेन में एसी-1 और थर्ड एसी की सारी टिकटें बुक हो गईं।


वेबसाइट पर टिकट की उपलब्धता के अनुसार, भुवनेश्वर-नई दिल्ली स्पेशल ट्रेनों के सभी एसी -1 और एसी -3 टिकट भी शाम 6.30 बजे तक बिक गए। उन्होंने कहा कि 7:30 बजे तक, 18,00 से अधिक टिकट वेबसाइट के माध्यम से बुक किए गए थे। वहीं 9:15 बजे तक, लगभग 30 हजार पीएनआर हो गए थे और 54 हजार से अधिक यात्रियों को आरक्षण जारी किया गया था।
रेल अधिकारियों के अनुसार पर कुछ खास श्रेणियों के लिए सीमित काउंटर खोले जाएंगे। सामान्य यात्रियों को यहां से कोई भी टिकट जारी नहीं होगा। रेल किराए में रियायत के संबंध में अधिकारियों ने बताया कि 19 मार्च के आदेश के मुताबिक ही छूट प्रदान की जाएगी।उल्लेखनीय है कि कोरोना संकट के मद्देनजर रेलवे ने 19 मार्च को एक आदेश जारी कर छात्रों, दिव्यांगों की चार श्रेणियों और दिव्यांगजनों की 11 श्रेणियों को ही आरक्षण जारी रखने का फैसला किया था जबकि शेष का रद्द कर दिया था।


रेल मंत्रालय के पूर्व घोषित कार्यक्रम के अनुसार आज शाम चार बजे आईआरसीटीसी की वेबसाइट खुलते ही भारी दबाव के चलते बुकिंग रोकनी पड़ी। हालांकि इसके बाद रेलवे ने कहा कि बुकिंग शाम छह बजे से फिर शुरू की जाएगी। हालांकि रेल मंत्रालय ने भारी ट्रैफिक के कारण वेबसाइट क्रैश होने के दावों को खारिज करते हुए कहा कि विशेष ट्रेनों से संबंधित डेटा वेबसाइट पर फीड किया जा रहा है। ट्रेन टिकट बुकिंग प्रक्रिया थोड़ी देर में उपलब्ध हो जाएगी। रेलवे ने शाम छह बजे से बुकिंग प्रक्रिया शुरू होने की बात कही लेकिन, उसके बाद टिकट तो काफी संख्या में बुक हुए वहीं बीच-बीच में देशभर में अलग-अलग स्थानों से टिकट बुक करने में असुविधा की भी शिकायतें मिलती रहीं।
उल्लेखनीय है कि 12 मई से नई दिल्ली से डिब्रूगढ़, अगरतला, हावड़ा, पटना, बिलासपुर, रांची, भुवनेश्वर, सिकंदराबाद, बेंगलुरु, चेन्नई, तिरुवनंतपुरम, मडगांव, मुंबई सेंट्रल, अहमदाबाद और जम्मू तवी को जोड़ने वाली विशेष ट्रेनों के रूप में चलाई जाएंगी।

Back to top button
E-Paper