कुम्भ में साधु-सन्तों तथा श्रद्धालुओं को हर हाल में शुद्ध जल उपलब्ध करायें : योगी आदित्यनाथ

लखनऊ,। उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने सोमवार की देर रात शास्त्री भवन में कुम्भ मेला-2019 को लेकर समीक्षा बैठक की। उन्होंने कहा कि कुम्भ-2019 में आने वाले साधु-सन्तों और श्रद्धालुओं को स्नान तथा आचमन के लिए हर हाल में शुद्ध जल उपलब्ध कराना सुनिश्चित करें।

Image result for कुम्भ में साधु-सन्तों

कहा कि, इसके लिए नदियों का उचित जलस्तर भी ठीक किया जाए। इस दौरान वे प्रयागराज में श्रद्धालुओं की सुविधा के लिए कराए जा रहे विकास कार्यों, सुरक्षा, आवागमन, पेयजल, चिकित्सा, विद्युत सहित अन्य बुनियादी सुविधाओं की प्रगति के सम्बन्ध में जानकारी ली। उन्होंने सभी विभागों को अपनी सम्बन्धित योजनाओं को हर हाल में 30 नवम्बर, 2018 तक पूर्ण करने के निर्देश दिए। उन्होंने कुम्भ के दृष्टिगत गंगा जी और यमुना जी में तथा संगम पर शुद्ध जल की अविरल धारा प्रत्येक दशा में सुनिश्चित करने के भी निर्देश दिए। कहा कि मेला क्षेत्र में कराए जा रहे सभी कार्य गुणवत्तापरक ढंग से समयबद्धता के साथ पूर्ण किए जाएं। उन्होंने प्रयागराज के अलावा, आस-पास से धार्मिक स्थलों का भी विकास सुनिश्चित करने के निर्देश दिए।

Image result for कुम्भ में साधु-संतों

उन्होंने साधु-सन्तों से संवाद स्थापित करते हुए सुरक्षा के सम्बन्ध में उनका मार्गदर्शन करने के भी निर्देश दिए। मुख्यमंत्री ने पुलिस विभाग को निर्देश दिए कि वह मेला क्षेत्र में संवेदनशील और व्यवहारकुशल पुलिस कर्मियों को तैनात करना सुनिश्चित करें, ताकि श्रद्धालुओं के साथ कोई अप्रिय स्थिति न उत्पन्न हो। उन्होंने यह भी निर्देश दिए कि मेला क्षेत्र में पूरी सुरक्षा व्यवस्था सुनिश्चित की जाए। सी0सी0टी0वी0 से पूरे मेला क्षेत्र की गहन निगरानी की जाए। साथ ही, असामाजिक तथा देशद्रोही तत्वों की सख्ती से निगरानी की जाए। मुख्यमंत्री योगी ने कहा कि राज्य सरकार कुम्भ के आयोजन को भव्य और दिव्य बनाना चाहती है।

Image result for कुम्भ में साधु-संतों

कहा कि कुम्भ का पहला सन्देश ‘स्वच्छता और दूसरा सन्देश पाॅलीथीन बैन’ का होगा। उन्होंने मार्गों पर स्पष्ट संकेतक लगाते हुए यातायात को प्रभावी ढंग से नियंत्रित करने के निर्देश दिए। उन्होंने निर्देश दिए कि कुम्भ आयोजन के दौरान पूरे मेला क्षेत्र में शासन की विभिन्न कल्याणकारी योजनाओं, महत्वपूर्ण पर्यटन योजनाओं जैसे-रामायण सर्किट, बौद्ध सर्किट, कृष्ण सर्किट, स्वच्छ भारत मिशन, आयुष्मान भारत आदि का व्यापक प्रचार-प्रसार सुनिश्चित किया जाए।

Image result for कुम्भ में साधु-सन्तों

उन्होंने कहा कि मेला क्षेत्र में कवरेज के लिए आने वाले मीडिया प्रतिनिधियों से संवाद बनाकर उन्हें आवश्यक सूचनाएं तत्परता से उपलब्ध करायी जाएं। उन्होंने पूरे मेला क्षेत्र में वाॅल पेण्टिंग भी सुनिश्चित करने के निर्देश दिए। उन्होंने कहा कि कुम्भ की तैयारियों के लिए कराए जा रहे सभी कार्यों की ई-टेण्डरिंग की जाए और हर स्तर पर पारदर्शिता बरती जाए। बैठक के दौरान मण्डलायुक्त इलाहाबाद ने मुख्यमंत्री को मेला क्षेत्र में कराए जा रहे स्वीकृत स्थायी व अस्थायी कार्यों की कार्य योजना, स्वच्छ गंगा-स्वच्छ कुम्भ, कुम्भ मेले में पर्यटन, सांस्कृतिक कुम्भ, डिजिटल कुम्भ, सुरक्षित कुम्भ, संगम क्षेत्र में मेला प्राधिकरण द्वारा संचालित अवस्थापना सुविधाओं की प्रगति, शहर के सौन्दर्यीकरण आदि कार्यों की विस्तृत जानकारी दी। बैठक मेें नगर विकास मंत्री श्री सुरेश खन्ना, मुख्य सचिव डाॅ. अनूप चन्द्र पाण्डेय, सम्बन्धित विभागों के अपर मुख्य सचिव, प्रमुख सचिव, सचिव सहित अन्य वरिष्ठ अधिकारी मौजूद थे।

Back to top button
E-Paper