कांग्रेसियों के धरने से बवाल, चंडीगढ़ पुलिस और प्रधान वड़िंग में धक्का-मुक्की

चंडीगढ़ स्थित पंजाब CM के रेजिडेंस में कांग्रेसियों के धरने को लेकर बवाल हो गया। हालात इस कदर बिगड़े की चंडीगढ़ पुलिस और पंजाब कांग्रेस प्रधान अमरिंदर सिंह राजा वड़िंग में धक्कामुक्की हो गई। इसके बाद पुलिस सभी कांग्रेसियों को हिरासत में ले लिया। उन्हें बस में भरकर पुलिस थाने ले गई। कांग्रेसी CM भगवंत मान से मिलने आए थे। उनका कहना था कि पूर्व कांग्रेसी मंत्री साधु सिंह धर्मसोत और संगत सिंह गिलजियां पर राजनीतिक बदलाखोरी के तहत केस दर्ज किया गया।

जानिए क्या कह गए CM भगवंत मान

इसका जवाब भी अब CM भगवंत मान ने दिया है। उन्होंने कहा, ‘मुझे दुख है कि बिना समय लिए पंजाब के बचे-खुचे कांग्रेसी मेरे घर पर आ गए। वह रिश्वत के केस का सामना कर रहे लीडरों के हक में आए थे। पंजाब को लूटने वालों का साथ देना सबूत है कि रिश्वत इनके खून में है। वह नारे लगा रहे थे कि साड्‌डे हक-ऐत्थे रख, इसका मतलब रिश्वतखोरी भी कांग्रेस का हक है।’

बुलाने के बाद किया जलील-कांग्रेसी

हिरासत में लिए कांग्रेसियों में पंजाब कांग्रेस प्रधान अमरिंदर सिंह राजा वड़िंग, विधानसभा में विपक्षी दल नेता प्रताप सिंह बाजवा, पूर्व डिप्टी CM सुखजिंदर रंधावा के अलावा कई नेता शामिल हैं। उनका कहना था कि CM ने सुबह 10 बजे का समय दिया था। इसके बावजूद उन्होंने मुलाकात नहीं की। उलटा उन्हें CM हाउस के अंदर बुलाते वक्त जलील किया गया। उनकी तलाशी ली गई और मोबाइल बाहर रखवा लिए गए। पुलिस ने उन्हें एक बजे मुलाकात का वक्त दिया, लेकिन कांग्रेसी नहीं माने। जिसके बाद उन्हें हिरासत में ले लिया गया।

धर्मसोत ने मंत्री रहते पेड़ कटाई में कमीशन खाया

पंजाब विजिलेंस ब्यूरो ने दावा किया कि साधु सिंह धर्मसोत ने मंत्री रहते पेड़ कटाई में कमीशन खाया। वह एक पेड़ के बदले 500 रुपए कमीशन लेते थे। लीगल परमिट पर काटे इन पेड़ों में कमीशन की डीलिंग धर्मसोत के रखे आदमी करते थे। कैप्टन अमरिंदर सिंह सरकार में मंत्री रहे धर्मसोत के करीब सवा करोड़ रिश्वतखोरी के खुलासे का दावा किया गया। धर्मसोत फिलहाल विजिलेंस ब्यूरो की रिमांड पर हैं। हालांकि, धर्मसोत ने इन आरोपों से इनकार दिया।

गिलजियां ने ट्री गार्ड में करोड़ से ज्यादा का किया घपला

विजिलेंस ब्यूरो ने दावा किया कि जंगलात मंत्री रहते संगत सिंह गिलजियां ने ट्री गार्ड में 6 करोड़ से ज्यादा का घपला किया। गिलजियां चरणजीत चन्नी के CM बनने के बाद 4 महीने के लिए जंगलात मंत्री बने थे।

CM भगवंत मान से समय लिया था- बाजवा

पंजाब विधानसभा में विपक्ष के नेता प्रताप सिंह बाजवा ने कहा कि उन्होंने CM भगवंत मान से समय लिया था। इसके बावजूद उन्हें बाहर खड़ा रखा गया। हालांकि, CM ऑफिस का दावा है कि कांग्रेस ने मिलने का समय नहीं लिया था।

Back to top button