टोंक गैंगरेप को लेकर ट्विटर पर चल रहा है अब #शर्म_करो_गहलोत

टोंक/जयपुर : राजस्थान के टोंक जिले के मालपुरा गैंगरेप केस पर विपक्ष ने मुख्यमंत्री अशोक गहलोत के खिलाफ ट्विटर पर जंग छेड़ दी है। नाबालिग से गैंगरेप मामले में पुलिस-प्रशासन की लापरवाही और प्रदेश में कानून व्यवस्था को लेकर बीजेपी के दिग्गज नेता जहां सीएम गहलोत को कोस रहे हैं वहीं ट्विटर भी उन्हें जमकर घेरा जा रहा है। हाल ही कोरोना के बढ़ते मामलों और लॉकडाउन में बिगड़े हालातों को लेकर जहां #गहलोतकुछतोकरोना हैशटैग ट्रेंड कर रहा था वहीं अब #शर्मकरो_गहलोत हैशटैग ट्रेंडिंग लिस्ट में है।

5 मई को नाबालिग के साथ हुए सामूहिक बलात्कार मामले में जांच अधिकारी पर पीड़िता बालिका के बयान डरा धमका कर लेने के आरोप लगे हैं। यही नहीं महिला चिकित्सक की ओर से मेडिकल मुआयने के दौरान अभद्रता और उम्र अधिक बताने के आरोप भी लग हैं। बता दें कि पिछले सप्ताह शुक्रवार को मालपुरा पुलिस ने धारा 144 का उल्लंघन करने को लेकर टोंक सांसद सुखबीर सिंह जौनापुरिया, मालपुरा विधायक कन्हैयालाल चौधरी तथा पूर्व विधायक उनियारा राजेंद्र गुर्जर सहित करीब 4 दर्जन लोगों के खिलाफ एफआईआर दर्ज की थी। ये सब अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक कार्यालय के बाहर जांच अधिकारी बदलने एवं चिकित्सक के खिलाफ कार्यवाही करने को लेकर धरना देने पहुंचे थे।

ट्विटर पर सीएम को लेकर ट्रेंडिंग हैशटैग।

बीजेपी प्रदेशाध्यक्ष डॉ. सतीश पूनिया ने उठाया कानून व्यवस्था पर सवाल

पूर्व मुख्यमंत्री वसुंधरा राजे ने कहा- राजस्थान शर्मसार

सांसद हनुमान बेनीवाल ने बताया दुर्भाग्यपूर्ण

सांसद दीया कुमारी ने भी जताया आक्रोश

टोंक सांसद ने उठाया मुद्दा, पुलिस ने केस दर्ज किया
लॉकडाउन की अवहेलना करने और धारा 144 का उल्लंघन करने पर बीजेपी सांसद सुखबीर सिंह जोनपुरिया और विधायक पुलिस ने केस दर्ज किया है। ये लोग अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक कार्यालय के बाहर ज्ञापन लेकर पहुंचे थे और फिर धरने पर बैठ गए थे।

Back to top button
E-Paper