GBC-3 में बोले PM मोदी, मेरी काशी इतनी नई नवेली, जरा समय निकालकर उसे देख आइए

लखनऊ। लखनऊ में शुक्रवार को GBC-3 यानी ग्राउंड ब्रेकिंग सेरेमनी-3 चल रही है। पीएम मोदी ने कहा, “उत्तर प्रदेश की युवा शक्ति पर भरोसा करने के लिए निवेशकों का धन्यवाद। यूपी के युवाओं की प्रतिभा, उनका संकल्प और समर्पण आपके सभी सपनों को पूरा करेगा। काशी का सांसद हूं। आग्रह है कि समय निकालकर मेरी काशी को देख आइए। पुरातन काशी इतनी नई नवेली हो सकती है, यह यूपी सरकार के संकल्प से ही संभव है। यूपी की ताकत का जीता जागता उदाहरण है।”

“यूपी में 80 हजार करोड़ रुपए से ज्यादा के निवेश

पीएम मोदी ने कहा, “यूपी में 80 हजार करोड़ रुपए से ज्यादा के निवेश से संबंधित समझौते यहां हुए हैं। ये रिकॉर्ड निवेश यूपी में रोजगार के हजारों नए अवसर बनाएंगे। ये भारत के साथ ही उत्तर प्रदेश की ग्रोथ स्टोरी को बढ़ते दिखाता है। दुनिया आज जिस भरोसेमंद साथी को तलाश रही है, उस पर खरा उतरने का सामर्थ्य सिर्फ हमारे लोकतांत्रिक भारत के पास है। दुनिया आज भारत के पोटेंशियल को भी देख रही है और भारत की परफार्मेंस की भी सराहना कर रही है।”

“हम G-20 अर्थव्यवस्थाओं में सबसे तेजी से बढ़ रहे हैं”

पीएम मोदी ने कहा, “हम G-20 अर्थव्यवस्थाओं में सबसे तेजी से बढ़ रहे हैं। आज भारत, ग्लोबल रिटेल इंडेक्स में दूसरे नंबर पर है। भारत, दुनिया का तीसरा सबसे बड़ा इनर्जी कंज्यूमर देश है। बीते साल दुनिया के 100 से अधिक देशों से, 84 बिलियन डॉलर का रिकॉर्ड FDI आया है। भारत ने बीते वित्तीय वर्ष में 417 बिलियन डॉलर यानी 30 लाख करोड़ रुपए से ज्यादा का माल निर्यात कर नया रिकॉर्ड बनाया है।”

आदित्य बिड़ला ग्रुप के चेयरमैन कुमार मंगलम बिड़ला ने कहा, “हम प्रदेश में 40 हजार करोड़ का निवेश कर रहे हैं। जिसमें करीब 35 हजार लोगों को प्रत्यक्ष-अप्रत्यक्ष रूप से रोजगार मिलेगा। उत्तर प्रदेश आज सबसे महत्त्वपूर्ण निवेश का डेस्टिनेशन बन चुका है। उत्तर प्रदेश ने निवेश के क्षेत्र में लंबी छलांग लगाई है। निवेश मित्र के माध्यम से सिंगल विंडो सिस्टम लागू होने से निवेश के लिए बहुत सहायता मिली। योगी के नेतृत्व में उत्तर प्रदेश आगे बढ़ रहा है और प्रधानमंत्री के निर्देशन में ये सशक्त बन रहा है। कुमार मंगलम बिड़ला ने कहा..

5 लाख से अधिक युवाओं को नौकरी दी है – सीएम योगी

पिछले चार वर्ष में हमने तीन लाख करोड़ से अधिक के प्रस्ताव धरातल पर उतारे हैं। आज तीसरे ग्राउंड ब्रेकिंग सेरेमनी में 80 हजार करोड़ के प्रोजेक्ट धरातल पर उतारे जा रहे हैं। पीएम का रिफॉर्म, परफार्म और इन्फॉर्म का मंत्र हमने अपनाया। हमने परंपरागत उद्यम को ओडीओपी के जरिए बढ़ाया। आज हम इस क्षेत्र से बड़ा निर्यात पूरी दुनिया में कर रहे। कानून व्यवस्था को बेहतर कर निवेश फ्रेंड्ली माहौल बनाया। 7 लाख उद्यमियों को जोड़ा गया। प्रदेश के 5 लाख से अधिक युवाओं को नौकरी दी है।

मिले ना मंजिल मुझे, तो मैं तरीके बदलता हूं… गौतम अडानी

ग्राउंड ब्रेकिंग सेरेमनी में उद्योगपति गौतम अडानी ने कहा, “मेरा सौभाग्य है कि आज मुझे दो महान नेताओं के साथ मिलने का मौका मिला। जो भारत को नया भारत बनाने के लिए लगातार प्रयासरत हैं। गौतम अडानी ने कुछ पंक्तियां पढ़ीं…
मैं सोच भी बदलता हूं,
मैं नजरिया भी बदलता हूं।
मिले ना मंजिल मुझे,
तो मैं तरीके भी बदलता हूं।
बदलता नहीं अगर मैं कुछ,
तो मैं लक्ष्य नही बदलता हूं।

जानिए किसने क्या कहा…

मंत्री नंदगोपाल नंदी ने कहा

हम इस समय केंद्र सरकार के 8 वर्ष की उपलब्धियों को मना रहे हैं। आज उत्तर प्रदेश की पहचान अमेठी और सैफई से नहीं, अयोध्या, मथुरा, काशी से होती है। हमने इन्वेस्टमेंट के क्षेत्र में सिंगल विंडो सिस्टम को लागू करके निवेशकों के साथ तालमेल बैठाकर काम कर रहे हैं।

उद्योगपति मैथ्यू एरिस

हम उत्तर प्रदेश में काम कर बेहद उत्साहित हैं। हम तेजी से अपने प्रोजेक्ट में निवेश बढ़ा रहे हैं। हम गर्व के साथ भारत मे काम करने की अनुशंषा करते हैं। उत्तर प्रदेश में बड़े कार्यों को लेकर आएंगे।

उद्योगपति निरंजन हीरा नंदानी

उत्तर प्रदेश बुलेट ट्रेन की रफ्तार के साथ आगे बढ़ रहा है। स्पीड ऑफ बिजनेस बहुत तेज है। कंस्ट्रक्शन के क्षेत्र में मैं 40 वर्षों से हूं, लेकिन इतना बदलाव मैंने कभी नहीं देखा। मैं निवेदन करता हूं कि इस अगस्त में हमारे शुरू होने वाले डेटा सेंटर की शुरुआत के समय प्रधानमंत्री और मुख्यमंत्री उपस्थित रहें। वर्तमान यूपी सरकार निवेशकों का अभूतपूर्व सहयोग कर रही है।

रक्षामंत्री राजनाथ सिंह
आज उत्तर प्रदेश ईज ऑफ डूइंग बिजनेस में दूसरे नंबर का राज्य बन गया है। अंतरराष्ट्रीय स्तर पर आज भारत की जो पहचान बनी, उसका पूरा श्रेय प्रधानमंत्री को जाता है। आज भारत अगर अंतरराष्ट्रीय मंच पर बोलता है तो पूरा विश्व कान खोलकर सुनता है। उत्तर प्रदेश रिसोर्स के मामले में अभूतपूर्व है। सभी निवेशकों से कहना चाहूंगा कि मुख्यमंत्री योगी आप सबके लिए हर क्षण तैयार हैं।

फिरोजाबाद के कांच से बने राम दरबार को सीएम योगी ने प्रधानमंत्री मोदी को गिफ्ट कर स्वागत किया है।

पीएम मोदी इंदिरा गांधी प्रतिष्ठान पहुंचे तो सबसे पहले उन्होंने ODOP यानी वन डिस्ट्रिक्ट वन प्रोडक्ट के स्टॉल पर लगी चीजों को देखा।

दुनिया के 10 सबसे अमीर व्यक्ति में शामिल गौतम अडानी ग्राउंड ब्रेकिंग सेरिमनी में आए हैं।

आदित्य बिड़ला ग्रुप के चेयरमैन कुमार मंगलम बिड़ला भी कार्यक्रम में पहुंचे हैं।

कार्यक्रम का आयोजन लखनऊ के इंदिरा गांधी प्रतिष्ठान में किया जा रहा है।

पीएम मोदी 80 हजार करोड़ की परियोजनाओं का भूमि पूजन करेंगे।

UP में कारोबारी माहौल निवेशकों और युवाओं के लिए शुभ संकेत

लखनऊ पहुंचने से पहले पीएम मोदी ने ट्वीट कर लिखा, “लखनऊ के लिए रवाना हो रहा हूं। जहां मैं यूपी इन्वेस्टर्स समिट के 3.0 (ग्राउंड ब्रेकिंग सेरेमनी) में हिस्सा लूंगा। कई निवेश परियोजनाओं की आधारशिला रखी जाएगी, जो यूपी में लोगों के जीवन को बदल देगी। पिछले पांच वर्षों में उत्तर प्रदेश ने राज्य में रिकॉर्ड निवेश लाने के प्रयास किए हैं। ये निवेश अनेक क्षेत्रों को कवर करते हैं। यूपी में अच्छा कारोबारी माहौल निवेशकों और स्थानीय युवाओं दोनों के लिए शुभ संकेत है।”

GBC-3 से सबसे ज्यादा 805 प्रोजेक्ट MSME के

GBC-3 से यूपी में यूनिवर्सिटी से लेकर डेयरी प्लांट तक लगेंगे। सबसे ज्यादा 805 प्रोजेक्ट MSME के हैं। दूसरे नंबर पर कृषि और उससे जुड़े उद्योगों के 275, तीसरे नंबर पर फार्मास्यूटिकल्स और मेडिकल सप्लाई के 65 प्रोजेक्ट हैं। शिक्षा से जुड़े 1,183 करोड़ के 6 प्रोजेक्ट लग रहे हैं। ऐसे ही डेयरी के 489 करोड़ के 7, पशुपालन के 224 करोड़ के 6 प्रोजेक्ट लग रहे हैं।

देश-दुनिया के दिग्गज उद्योगपति हो रहे शामिल
समारोह में आदित्य बिड़ला समूह के अध्यक्ष कुमार मंगलम बिड़ला, अडाणी समूह के एमडी गौतम अडानी, आईटीसी लिमिटेड के एमडी संजीव पुरी, हीरानंदानी ग्रुप के एमडी निरंजन हीरानंदानी, जिंदल ग्रुप के चेयरमैन सज्जन जिंदल, लुलु ग्रुप के एमडी यूसुफ अली, वीपी एयर लिक्विड के मैथ्यू आइरीज आदि शामिल हो रहे हैं।

GBC-1 में हुआ था 61 हजार करोड़ का निवेश

प्रधानमंत्री की अध्यक्षता में 29 जुलाई, 2018 को पहला GBC हुआ था।

इसमें 61 हजार 800 करोड़ से अधिक का निवेश हुआ और 81 परियोजनाएं शुरू हुई थीं।

रिलायंस जियो और BSNL ने पूरे प्रदेश में ऑप्टिकल केबल बिछाया।

अडानी पॉवर ने 765 केवी घाटमपुर-हापुड़ ट्रांसमिशन लाइन का काम कराया।

पेटीएम ने अपना कैंपस और हेड क्वार्टर बनाया।

वर्ल्ड ट्रेड सेंटर ने मोबाइल मैन्युफैक्चर हब डेवलप किया।

कैंट आरओ सिस्टम ने वाटर प्यूरीफायर के मैन्युफैक्चरिंग की प्लांट लगाया।

28 जुलाई 2019 को ग्राउंड ब्रेकिंग सेरेमनी-2 का आयोजन हुआ था

इसमें 67 हजार करोड़ का निवेश हुआ और 290 परियोजनाएं शुरू हुई थीं।

सैमसंग ने नोएडा में मोबाइल मैन्युफैक्चरिंग यूनिट शुरू किया।

आईटीसी ने हरदोई में फूड प्रोसेसिंग सेंटर और वेयर हाउस शुरू किया।

पेप्सिको ने मथुरा में फूड प्रोसेसिंग यूनिट शुरू किया।

अडाणी ग्रुप ने इंडियन ऑयल कॉर्पोरेशन के साथ पीएनजी इंफ्रास्ट्रक्चर के लिए जौनपुर में सिस्टम लगाया।

अल्ट्राटेक ने प्रयागराज में सीमेंट यूनिट शुरू किया।

ओमेक्स ऑटो ने रायबरेली में ऑटोमोबाइल पार्ट मैनुफैक्चरिंग यूनिट शुरू किया।

लावा इंटरनेशनल कंपनी ने नोएडा में मैन्युफैक्चरिंग यूनिट शुरू किया।

Back to top button